27.6 C
Uttarakhand
[rev_slider_vc alias=”UT_Haridwar” title=”हरिद्वार (Haridwar)”]
2360 वर्ग किलोमीटर में फैला हरिद्वार जिला पहले सहारनपुर डिवीजनल कमिशनरी का हिस्सा था. 28 दिसंबर 1988 को इसे अलग जिला बनाया गया और फिर 9 नवंबर 2000 को जब उत्तर प्रदेश के पहाड़ी हिस्से को एक अलग राज्य का दर्जा दिया गया तो हरिद्वार उत्तराखंड के हिस्से में आया. हरिद्वार प्रकृति प्रेमियों के लिए स्वर्ग है. यह भारतीय संस्कृति और सभ्यता के हजारों रूप प्रस्तुत करता है. हरिद्वार का सीधे अर्थों में मतलब भगवान तक पहुंचने का द्वार या रास्ता है. इसे मायापुरी, कपिला और गंगाद्वार भी कहा जाता है. इस स्थान को हरिद्वार कहें या हरद्वार इसके पीछे भी एक कहानी है. दरअसल भगवान श‍िव (हर) के भक्त इसे उनके नाम हरद्वार, जबकि भगवान विष्णु (हरि) के भक्त इसे हरिद्वार कहते हैं. हरिद्वार ही देवभूमि उत्तराखंड का प्रवेश द्वार है और यही चार धाम यात्रा (बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री) जाने का भी मुख्य द्वार है. यह हिन्दुओं के सात पवित्र स्थलों में से एक है.
हरिद्वार वही भूमि है जहां गंगा पहाड़ों से अठखेलिया करते हुए पहली बार देश के मैदानी हिस्से में प्रवेश करती है. हिन्दू पौराणिक कथाओं के अनुसार, समुद्र मंथन से निकले अमृत के घड़े से कुछ बूंदें भूल से हरिद्वार में गिर गईं थीं. धरती में कुल चार जगहों पर अमृत की बूंदें गिरी, जिसमें हरिद्वार के अलावा उज्जैन, नासिक और प्रयाग (काशी) भी हैं. आज इन्हीं चार जगहों पर हर 12 साल में महाकुंभ का आयोजन होता है. हर तीन साल में इन चार में से किसी एक स्थान पर अवश्य ही महाकुंभ का आयोजन होता है, जबकि हर स्थान पर यह 12 साल में ही होता है. महाकुंभ में शामिल होने और इसके गवाह बनने के लिए दुनियाभर से करोड़ों तीर्थयात्री और पर्यटक इन जगहों पर पहुंचकर पवित्र नदियों में डुबकी लगाते हैं.

हरिद्वार

इंटरनेशनल हर्बल कारपोरेशन ने उत्तराखंड सरकार के साथ किया 300 करोड़...

0
भारत देश में तेज़ी से बढ़ते आयुर्वेदिक क्षेत्र में अग्रणी नाम है इंटरनेशनल हर्बल कारपोरेशन कंपनी का. यह कंपनी देवस्थली हरिद्वार में चरण बद्द...

टूरिज्म मैप पर ये हैं हरिद्वार के नजारे

10
हिन्दू परम्पराओं के अनुसार, हरिद्वार में पांच तीर्थ गंगाद्वार (हर की पौडी), कुश्वर्त (घाट), कनखल, बिलवा तीर्थ (मनसा देवी), नील पर्वत (चंडी देवी) हैं....

हरिद्वार जिले के मेले और धार्मिक आयोजन

0
श्रावण के महीने में यहां लाखों की संख्या में शिवभक्त पवित्र मंगा नदी में डुबकी लगाने के लिए पहुंचते हैं. इस पूरे महीने यहां...

हरिद्वार जिले के महत्वपूर्ण संपर्क

0
हरिद्वार का एसटीडी कोड: 01334 रुड़की और लक्सर का एसटीडी कोड: 01332 जिला स्तर के अधिकारियों के संपर्क नंबर जिला मजिस्ट्रेट (DM) ऑफिस फोन नंबर: 239440 घर का फोन...

जिला मजिस्ट्रेट (DM, Haridwar)

Office:  239440, Home: 239645, 239561

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (SSP, Haridwar)

Office: 239777, Home: 239866

सिटी मजिस्ट्रेट (City Megistrate, Haridwar)

Office: 226400, Home: 221663

एसडीएम (SDM)

  • हरिद्वार (Haridwar) Office: 254807, Home: 229599
  • रुड़की (Roorkee): Office: 270794 Home: 272484
  • लक्सर (Laksar): Office: 01332-254401

मुख्य चिकित्सा अधिकारी (CMO, Haridwar)

Office: 226023

पर्यटन कार्यालय (Tourism Office, Haridwar)

Office: 227370

जिला अस्पताल (District Hospital)

  •  हरिद्वार  (Haridwar) Phone: 01334-228083
  • महिला अस्पताल, हरिद्वार (Women Hospital, Haridwar)Phone: 01334-265168
  • मेला अस्पताल, हरिद्वार (Fair Hospital, Haridwar)Phone: 01334-265525

एसएसपी हरिद्वार (SSP, Haridwar)

Office: 01334-239109, 9411112987, Home: 239777, Fax: 239866

[wpc-weather id=”762″/]

Empty tab. Edit page to add content here.