लद्दाख के बाद जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में भी भूकंप के झटके

लद्दाख में गुरुवार दोपहर में भूकंप के झटके महसूस किए गए. रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 4.5 थी. कहा जा रहा है भूकंप का केंद्र 119 किलोमीटर दूर कारगील के उत्तर-पश्चिम था. फिलहाल जान-माल के नुकसान की कोई खबर नहीं है. ये भूकंप दोपहर एक बजकर 11 मिनट पर आया. लद्दाख में पिछले एक हफ्ते के दौरान दूसरी बार भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. 26 जून को भी यहां 4.5 तीव्रता का भूकंप आया था.

लद्दाख में भूकंप का झटका महसूस किए जाने के थोड़ी देर बाद जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में भी भूकंप का झटके महसूस किए गए. दोपहर 2 बजकर 2 मिनट पर आए इस भूकंप की तीव्रता 3.6 थी. फिलहाल यहां से भी जानमाल के नुकसान की कोई खबर नहीं है.

कोरोना वायरस महामारी के बीच लगभग रोजाना देश के किसी ना किसी राज्‍य में भूकंप के झटके महसूस किए जा रहे हैं. खास कर उत्तरी और पूर्वी भारत में लगातार भूकंप के झटके महसूस किए जा रहे हैं. जम्मू कश्मीर में पिछले एक महीने के दौरान 5 बार भूकंप के झटके महसूस किए जा चुके हैं.

पिछले हफ्ते में मिजोरम में लगातार तीन दिनों तक भूकंप के झटके महसूस किए गए. पिछले हफ्ते भूकंप के झटके हरियाणा और दिल्ली के बाहरी इलाकों में भी महसूस किए गए है. अप्रैल से लेकर जून 2020 में दिल्ली-एनसीआर में दर्जनभर से ज्यादा बार मध्यम और कम तीव्रता वाले भूकंप आ चुके हैं.