अगले 10 दिन में चलाई जाएंगी 2600 ट्रेनें, आवश्यकता के आधार पर हर राज्य के लिए होगी रेल सेवा

कोरोना वायरस लॉकडाउन में भारतीय रेलवे अधिक से अधिक ट्रेनें चलाने की योजन बना रही है. शनिवार को रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद कुमार यादव ने बताया कि अगले 10 दिनों के लिए लगभग 2600 ट्रेनें निर्धारित की गई हैं.

इसके अलावा उन्होंने कहा कि यदि हमें किसी भी राज्य सरकार को आवश्यकता होती है, तो हम राज्य के भीतर ट्रेनें चलाने के लिए भी तैयार हैं. बता दें कि देशव्यापी लॉकडाउन का चौथा चरण 31 मई, 2020 को समाप्त हो रहा है और 1 जून से रेलवे रोजाना 200 नॉन ऐसी ट्रेनों के संचलन का ऐलान किया है.

लॉकडाउन के बीच ट्रेनों के संचलन को लेकर शनिवार को भारतीय रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद कुमार यादव ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर देश को संबोधित किया.

इस दौरान उन्होंने बताया किउत्तर प्रदेश और बिहार के प्रवासी मजदूरों के लिए 80% ट्रेन चलाई गई हैं. उन्होंने आगे कहा, 1 मई को श्रमिक स्पेशल ट्रेनें शुरू की गई. सभी यात्रियों को मुफ्त भोजन और पीने का पानी उपलब्ध कराया जा रहा है. ट्रेनों और स्टेशनों में सोशल डिस्टेंसिंग और स्वच्छता प्रोटोकॉल का पालन किया जा रहा है.