अम्फान तूफान से तबाही का जायजा लेने कोलकाता पहुंचे पीएम मोदी, सीएम ममता ने किया स्वागत

चक्रवाती तूफान अम्फान के कारण मची तबाही का आकलन करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को (22 मई) पश्चिम बंगाल और ओडिशा के दौरे पर हैं. पीएम दोनों राज्यों के प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण करेंगे और समीक्षा बैठक भी कर सकते हैं.

बता दें कि, कोरोना की वजह से देश में लॉकडाउन होने से पीएम कई कार्यक्रमों में शामिल हुए लेकिन इस दौरान उन्होंने दिल्ली से बाहर कोई दौरा नहीं किया. ऐसे में पीएम मोदी 83 दिनों बाद शुक्रवार को दिल्ली से बाहर किसी दौरे पर हैं, इससे पहले वे 29 फरवरी को यूपी के प्रयागराज और चित्रकूट गए थे.


चक्रवाती तूफान से प्रभावित पश्चिम बंगाल का हवाई सर्वे करने के लिए पीएम मोदी कोलकाता पहुंचे. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उनका स्वागत किया. दौरे पर पीएम के साथ केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो, प्रताप चंद्र सारंगी और देबश्री चौधरी भी मौजूद हैं.


दरअसल चक्रवाती तूफान ने बुधवार को ओडिशा और पश्चिम बंगाल में भारी तबाही मचाई है. 160 से 180 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से इस तूफान ने कोलकाता एयरपोर्ट तक को क्षतिग्रस्त कर दिया है. कोलकाता शहर और आसपास के कई ​इलाकों में पानी भर गया है. माना जा रहा है कि बंगाल में 283 साल बाद ऐसा भयानक तूफान आया. एक अनुमान के मुताबिक, तूफान से राज्य में 1 लाख करोड़ रुपये से भी ज्यादा का नुकसान हुआ है. हालांकि बंगाल में तूफान से तबाही का आंकलन अभी बाकी है, लेकिन मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा था कि, चक्रवात की वजह से बंगाल में 72 लोगों की मौत हो चुकी है.