उत्तराखंड में नौ कोरोना के मामले आए सामने, प्रदेश में 111 से बढ़कर 120 पहुंची संक्रमितों की संख्या

उत्तराखंड में कोरोना मरीजों के बढ़ने की रफ्तार थमने का नाम नहीं ले रही. बुधवार को राज्य में नौ और मरीजों में कोरोना की पुष्टि हुई. इसके साथ ही राज्य में कोरोना के कुल मरीजों की संख्या 120 पहुंच गई है.

बुधवार को दून अस्पताल में इलाज करा रहे एक कोरोना मरीज को इलाज के बाद छुट्टी भी दी गई है. अपर सचिव स्वास्थ्य युगल किशोर पंत ने बताया कि बुधवार को विभिन्न लैब से कुल 728 सैंपल की रिपोर्ट आई 719 नेगेटिव पाई गई.

जबकि नौ मरीजों के सैंपल कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. उन्होंने बताया कि बुधवार को मिले कोरोना मरीजों में से अल्मोड़ा, हरिद्वार और उत्तरकाशी जिले के एक- एक मरीज जबकि यूएस नगर जिले के चार और नैनीताल के दो मरीज शामिल हैं. उन्होंने बताया कि बुधवार को मिले कोरोना मरीजों में से दो प्रवासी जबकि अन्य उनके संपर्क में आए लोग हैं. राज्य के अस्पतालों में अब कुल 66 मरीजों का इलाज चल रहा है.

जबकि 53 मरीज इलाज के बाद ठीक होकर घर जा चुके हैं. बुधवार को राज्य के अस्पतालों से कुल 754 मरीजों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं. इसमें से सबसे अधिक 270 सैंपल हरिद्वार जिले से, 207 देहरादून जिले से, 61 नैनीताल, 60 यूएस नगर जिले के सैंपल शामिल हैं.

अपर सचिव ने बताया कि राज्य में अभी तक कुल 15503 सैंपल जांच के लिए भेजे जा चुके हैं. जिसमें से 12945 सैंपलों की रिपोर्ट आ गई है. जबकि 1538 सैंपलों की रिपोर्ट आना बाकी है. राज्य में कोरोना के एक्टिव मरीज एक सप्ताह में तकरीबन तीन गुना हो गए हैं. 13 मई को राज्य में कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या 23 थी जो बुधवार को 66 हो गई है.

ऐसे में एक सप्ताह में मरीजों का आंकड़ा तेजी से बढ़ने के बाद अब एक्टिव मरीजों की संख्या में भी तेजी से इजाफा हो रहा है. इससे राज्य के अस्पतालों में कोरोना मरीजों का बोझ बढ़ना शुरू हो गया है.

राज्य में मरीजों के बढ़ने की रफ्तार पर नजर डाले तो पहले तीस मरीज 23 दिन में सामने आए. अगले तीस मरीज 27 दिन में मिले, अगले तीस मरीज 13 दिन में मिले जबकि आखिरी तीस मरीज पिछले चार दिनों में सामने आए हैं.

 

कोरोना आंकड़ों का लगातार अध्ययन कर रहे स्वास्थ्य विशेषज्ञ अनूप नौटियाल ने बताया कि राज्य में मरीजो के बढ़ने की रफ्तार पिछले कुछ दिनों में बहुत तेज हुई और इसके साथ ही अब जांच बढ़ाने की जरूरत है. नौटियाल ने कहा कि पिछले कुछ दिनों में राज्य में जांच बढ़ी है और इसे अभी और बढ़ाने की जरूरत है.