लखनऊ में प्रियंका गांधी के सचिव के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज,जानें पूरा मामला

लखनऊ पुलिस ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के निजी सचिव संदीप सिंह के खिलाफ धोखाधड़ी और जालसाजी का मामला दर्ज किया है। संदीप सिंह को प्रवासी मजदूरों को उनके गंतव्यस्थल तक ले जाने के लिए कांग्रेस द्वारा प्रबंधित बसों के बारे में गलत विवरण पेश किए जाने के चलते हिरासत में लिया गया है।

राज्य सरकार ने इसी दिन कहा था कि स्कूटर, माल वाहक और एंबुलेंस के पंजीकरण नंबर को बस के रूप में दिखाए गए हैं। हजरतगंज पुलिस स्टेशन में दर्ज मामले में कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू का नाम भी है.

यूपी सरकार का आरोप है कि बसों की लिस्ट में ऑटो, एंबुलेंस, बाइक के नंबर मिले थे. कुछ बसों के नंबर की पुष्टि ही नहीं हो पाई थी. जबकि कुछ बसों के नंबर चोरी के वाहन की होने की आशंका भी जाहिर की जा चुकी है. फिलहाल इस मामले में लखनऊ के हजरतगंज पुलिस ने धोखाधड़ी की एफआईआर दर्ज की है.

वहीं लखनऊ के बाद आगरा में भी अजय कुमार लल्लू और विवेक बंसल पर फतेहपुर सीकरी थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है. धारा 188,269 और महामारी एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया है.

बता दें कि उत्तर प्रदेश में बसों की एंट्री को लेकर कांग्रेस और योगी सरकार आमने-सामने है. एक ओर जहां आगरा में राजस्थान सीमा पर कांग्रेस के कार्यकर्ता धरने पर बैठ गए तो वहीं अब पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी ने योगी सरकार पर निशाना साधा है. प्रियंका गांधी ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने हद कर दी. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इन बसों पर आप चाहें तो बीजेपी का बैनर लगा दीजिए, अपने पोस्टर बेशक लगा दीजिए लेकिन हमारे सेवा भाव को मत ठुकराइए.