बड़ी खबर : लॉकडाउन 4.0 में गाड़ी लेकर निकलने से पहले जान लें ये नियम, वरना पड़ेगा भारी

लॉकडाउन 4.0 उन लोगों के लिए बड़ी राहत लेकर आया है, जिनके पास निजी वाहन हैं. नये दिशा-निर्देशों में लोगों को पहले की तुलना में ज्यादा स्वतंत्रता से आने-जाने की अनुमति दी गई है. केंद्र ने रविवार को नए दिशानिर्देशों की घोषणा की, जो वाहन मालिकों को अपनी कारों और दोपहिया वाहनों को बाहर निकालने से पहले जान लेने चाहिए.

सभी तीन जोन में गतिविधियों के लिए दी गई छूट

25 मार्च को देशभर में लगे लॉकडाउन के बाद से पहली बार, केंद्र ने निजी वाहनों के अंतरराज्यीय गतिविधियों की अनुमति दी है. यह निर्णय तीनों क्षेत्रों- रेड जोन, ऑरेंज जोन और ग्रीन जोन में लागू होगा. हालांकि इस सूची में सक्रिय कोरोना वायरस के पॉजिटिव मामलों के आधार पर बनाये गये नियंत्रण क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले क्षेत्र शामिल नहीं हैं.

लॉकडाउन 4.0 के दौरान बाहर जाने की योजना बनाने वाले सभी लोगों के लिए अब भी एक रोक है. नये दिशानिर्देश का मतलब यह नहीं है कि आप स्वतंत्र रूप से एक राज्य से दूसरे राज्य की यात्रा कर सकेंगे और पुलिस आपको नहीं रोकेगी. दरअसल, प्रत्येक राज्य अभी तक अपने लिए दिशानिर्देश जारी नही कर सका है, जो यह तय करेगा कि क्या आपके लिए ऐसा करना संभव है?

वाहनों को गतिविधि करने के लिए ई-पास की होगी आवश्यकता

मिसाल के तौर पर, सोमवार की सुबह दिल्ली-नोएडा बॉर्डर पर बड़ी भीड़ लग गई, जिसमें सैकड़ों वाहनों की एंट्री और एग्जिट के लिए कतारें लगी थीं. दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने कहा है कि निजी वाहनों को सक्षम अधिकारियों द्वारा जारी किए गए ई-पास की आवश्यकता होगी, जो उनके पास होने पर उन्हें जाने दिया जायेगा. इसलिए, यदि आप काम या किसी अन्य वजहों से जाने की योजना बना रहे हैं, तो निकलने से पहले अपना ई-पास ले लें या जारी करा लें.

इस दौरान कार में मौजूद लोगों की संख्या सभी क्षेत्रों में समान रखी गई है. ध्यान रखें, लॉकडाउन 4.0 के दौरान ड्राइवर के अलावा अधिकतम दो यात्री कार के अंदर बैठ सकते हैं, ऐसा ही पिछले चरण में भी था. दोपहिया वाहनों के मालिकों के लिए भी दिशानिर्देश नहीं बदले हैं, जिसका अर्थ है कि कोई व्यक्ति अकेले ही बाइक की सवारी कर सकता है. एक कार में या दोपहिया पर सवार लोगों की आयु 65 साल से ऊपर या 10 साल से कम नहीं होनी चाहिए. केंद्र ने स्वास्थ्य संबंधी सावधानियों के तहत इन दोनों ही आयु वर्ग के लोगों के लिए सभी तरह की यात्रा को प्रतिबंधित करने के दिशानिर्देश जारी किए हैं.

कार में और दोपहिया पर कितने लोग कर सकते सवारी, इसके नियम पहले जैसे

ध्यान दें, सभी ड्राइवरों और यात्रियों को किसी भी तरह के दंड से बचने के लिए मास्क पहनना अनिवार्य होगा. वरना उन्हें संबंधित क्षेत्र के दिशानिर्देशों के मुताबिक दंड देना पड़ेगा. उन्हें अपने वाहनों में सैनिटाइजर रखने की हिदायत भी दी गई है.

आपकी कार या दोपहिया वाहन को बाहर ले जाने का समय भी पहले जैसा ही रहेगा. शाम 7 से 7 बजे के बीच सभी स्थानों पर कर्फ्य जारी रहेगा. इसलिए सुनिश्चित करें कि कर्फ्यू शुरू होने से पहले आप अपने आधार पर लौट आएं वरना आप पर धारा 144 (Section 144) का उल्लंघन करने के लिए मुकदमा चलाया जा सकता है.