कोरोना मुद्दे पर बिल गेट्स से रूबरू हुए पीएम मोदी, बोले कोविड 19 के खिलाफ मिलजुल कर लड़ना होगा

कोरोना के कहर से दुनिया के ज्यादातर मुल्क परेशान है. एक तरफ संक्रमण की बढ़ती संख्या और हो रही मौतों से हर को सकते में हैं. इस वायरस का इलाज सिर्फ दवा या वैक्सीन में है जो अभी किसी के पास नहीं है.

पूरी दुनिया में संक्रमण का आंकड़ा 44 लाख के पार है तो मरने वालों की संख्या तीन लाख के बेहद करीह है अगर बात भारत की करें तो यहां संकमितों की संख्या 78 हजार के पार और 2500 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. इन आंकड़ों में मई के शुरुआती हफ्तों से इजाफा हुआ है.


केंद्र सरकार ने लॉकडाउन 4 के संकेत दिए हैं लेकिन अर्थव्यवस्था को किस तरह से पटरी पर लाया जाए इसके भी इंतजाम किए जा रहे हैं. इन सबके बीच पीएम नरेंद्र मोदी मिलिंडा गेट्ज फाउंडेशन के फाउंडर बिल गेट्स से रूबरू हुए. वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए दोनों दिग्गजों में कोरोना से चुनौती और उससे निपटने के उपायों पर चर्चा हुई.

पीएम नरेंद्र मोदी ने कोरोना के खिलाफ लडा़ई में नई नई तकनीक और आविष्कारों पर बल दिया ताकि पूरी दुनिया को कोरोना के संकट से उबारा जा सके. पीएम ने कहा कि जिस तरह भारत अपवने सभी नागरिकों की सहभागिता के साथ यह लड़ाई लड़ रहा है, जिस तरह से हम संदेशों को जमीनी स्तर पर पहुंचा रहे हैं उसका फायदा दुनिया के दूसरे मुल्क भी उठा सकते हैं. संकट की इस घड़ी में पूर्वाग्रहों को छोड़कर सबको एक साथ आना ही होगा.

पीएम मोदी ने कहा कि जिस तरह से कोरोना के खिलाफ लड़ाई में गेट्ज फाउंडेशन भारत में आगे आकर मदद कर रहा है, बल्कि दुनिया के दूसरे मुल्कों को भी इसका फायदा मिल रहा है वो काबिलेतारीफ है. निश्चित तौर पर कोरोना के खिलाफ लड़ाई में एक दूसरे के सहभागी बनकर इस चुनौती का सामना किया जा सकता है.