उत्तराखंड में बढ़ सकते है शराब के दाम, लग सकता है कोविड-19 सेस

उत्तराखंड में शराब के दाम बढ़ सकते हैं. सूत्रों के अनुसार प्रति बोतल पांच से दस रुपए तक कोविड-19 सेस लगाया जा सकता है. आबकारी विभाग इसका प्रस्ताव तैयार कर रहा है. जिसे मंत्रिमंडल की बैठक में रखा जाएगा.

प्रदेश को आबकारी से सालाना लगभग तीन हजार करोड़ से अधिक राजस्व एकत्रित होता है. कोविड-19 के तहत सरकार पर बढ़े आर्थिक बोझ की भरपाई के लिए सेस लगाने की तैयारी है. दिल्ली सहित कुछ अन्य राज्य सरकारों ने भी शराब के दाम में वृद्धि की है. प्रदेश सरकार सेस लगाकर उसका इस्तेमाल कोरोना संक्रमण की रोकथाम में करेगी. आबकारी विभाग के सामने बड़ी चुनौती ये है कि सेस लगाने के बाद शराब के दाम उत्तर प्रदेश से अधिक न हो जाएं. ऐसा होने पर शराब की अवैध तस्करी बढ़ सकती है. 

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की अध्यक्षा में हुई बैठक में सेस लगाने को सहमति बनी है. आबकारी विभाग को प्रस्ताव तैयार करने को कहा गया है. प्रमुख सचिव आबकारी आनंद बद्र्धन ने बताया कि सेस लगाने के लिए प्रस्ताव तैयार कर रहे हैं. प्रति बोतल कितना सेस लगेगा, इसका फैसला मंत्रिमंडल करेगा. बता दें कि आगामी सात मई को मुख्यमंत्री आवास में मंत्रिमंडल की बैठक होगी, जिसमें कोरोना संक्रमण की रोकथाम को लेकर चर्चा की जाएगी.

बैठक में प्रदेश की आर्थिक स्थिति सुधारने के लिए मंत्रिमंडलीय उपसमिति अपनी रिपोर्ट पेश कर सकती है. इसके अलावा चारधाम यात्रा की शुरुआत करने को लेकर भी विचार विमर्श होगा. इस बाबत सरकार केंद्र को प्रस्ताव भी भेज सकती है.