अमेरिका की एक और बड़ी कंपनी करेगी जियो में 5655 करोड़ रुपये का निवेश, जानें डील की 5 बड़ी बातें

अमेरिका की बड़ी प्राइवेट इक्विटी कंपनी सिल्वरलेक रिलायंस जियो प्लेटफार्म में 1.15 फीसदी हिस्सेदारी $75 करोड़ डॉलर यानी करीब 5655.75 करोड़ रुपये में खरीदेगी. इस डील के हिसाब से रिलायंस इंडस्ट्रीज की टेलीकॉम कंपनी रिलायंस जियो की वैल्यू 5.15 लाख करोड़ रुपये हो गई है. सिल्वर लेक की यह डील फेसबुक डील के मुकाबले ज्यादा वैल्यूएशन पर हुई है. आपको बता दें कि सिल्वर लेक टेक्नोलॉजी ने साल 2013 में पर्सनल कंप्यूटर कंपनी डेल का अधिग्रहण किया था जिसके बाद वह सबकी नजरों में आई.

आइए जानें डील से जुड़ी 5 बड़ी बातें

(1) 12.5 फीसदी प्रीमियम पर हुई डील- फेसबुक के मुकाबले सिल्वर लेक के साथ डील ज्यादा आकर्षक रही है.

(2) सिल्वर लेक के साथ डील कई मायने में फायदेमंद- टेक्नोलॉजी से जुड़ी कंपनियों में निवेश करने के मामले में सिल्वर लेक दुनिया की दिग्गज कंपनियों में शामिल है. सिल्वर लेक का कंबाइंड AUM (एसेट्स अंडर मैनेजमेंट) 43 अरब डॉलर का है. कंपनी ने करीब 100 से ज्यादा इनवेस्टमेंट किए हैं और इसके अधिकारी सिलिकॉन वैली, न्यूयॉर्क, हॉन्गकॉन्ग और लंदन में मौजूद हैं.

(3) आरआईएल के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने इस डील का स्वागत करते हुए कहा कि हमें सिल्वर लेक के साथ पार्टनरशिप करने पर खुशी हो रही है. इससे इंडियन डिजिटल सिस्टम का ट्रांसफॉर्म होगा और यह तेजी से ग्रोथ करेगा.

(4) मुकेश अंबानी ने कहा, इस डील से इंडियन डिजिटल सोसायटी को बहुत ज्यादा फायदा होगा. उन्होंने कहा कि सिल्वर लेक का रिकॉर्ड आउटस्टैंडिंग है और यह टेक व फाइनेंस में एक सम्मानित नाम है. फिलहाल हम इस डील को लेकर उत्साहित हैं.

(5) भारत की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी- जियो की लॉन्चिंग साल 2016 में हुई थी. तीन साल में ही यह देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी बन गई है. कंपनी के पास करीब 34 करोड़ से ज्यादा ग्राहक हैं. वहीं, अब कंपनी की मार्केट वैल्यू बढ़कर 5.15 लाख करोड़ रुपये हो गई है.