उत्तराखंड में बिना श्रद्धालुओं के खोले गए गंगोत्री मंदिर के कपाट

रविवार दोपहर 12:35 बजे उत्तराखंड में स्थित गंगोत्री मंदिर के कपाट खोल दिए गए. लॉकडाउन के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखकर यह रस्म निभाई गई. इस समय कोई भी श्रद्धालु और तीर्थ यात्री मौजूद नहीं था.

इस अवसर पर पीएम नरेंद्र मोदी ने भी अक्षय तृतीया महापर्व की शुभ बेला पर मंदिर समिति गंगोत्री को 1100 रुपये दान स्वरूप दिए. वहीं, धाम में पहली पूजा प्रधानमंत्री मोदी के नाम से हुई.

इस दौरान मंदिर समिति के अध्यक्ष सुरेश सेमवाल, सह सचिव राजेश सेमवाल, अध्यक्ष गंगा पुरोहित सभा पवन सेमवाल, सदस्य मंदिर समिति, राकेश सेमवाल, सचिव मंदिर समिति,दीपक सेमवाल, एसडीएम देवेंद्र नेगी, पुलिस उपाधीक्षक कमल सिंह पंवार, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डीपी जोशी भी मौजूद रहे.

इससे पहले आज सुबह मां यमुना की डोली खरसाली से यमुनोत्री धाम के लिए रवाना हुई थी. इस दौरान उन्हें विदा करने के लिए भाई शनिदेव की डोली भी निकली.

परंपरा के अनुसार मुखबा गांव से मां गंगा की भोग मूर्ति को डोली यात्रा को शनिवार को ही गंगोत्री धाम के लिए रवाना कर दिया गया था.भैरोंघाटी स्थित प्राचीन भैरव मंदिर में रात्रि विश्राम के बाद डोली यात्रा रविवार दोपहर तक गंगोत्री धाम पहुंची.