देश में 24 घंटे में सामने आए सबसे ज्यादा 773 नए मामले, 32 लोगों की हुई मौत

भारत समेत पूरी दुनिया में कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है. भारत में बुधवार को 24 घंटे में कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा 773 मामले सामने आए जिसके बाद संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 5194 हो गई है. जबकि पिछले 24 घंटे में 32 लोगों की मौत हो गई है जिससे कोरोना से जान गंवाने वालों का आंकड़ा बढ़कर 149 हो गया है. भारत में कोरोना वायरस से ठीक होने वालों का आंकड़ा 402 हो गया है.

स्वास्थ्य मंत्रालय के नियमित संवाददाता सम्मेलन में स्वास्थ्य मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं, ऐसे में हमारी प्रतिक्रिया और तैयारी में उसी अनुरूप तेजी लाई जा रही है. उन्होंने कहा कि अस्पतालों में संक्रमण से बचने पर ध्यान दिया जा रहा है और इसे रोकने के उपायों का पालन किया जा रहा है, ताकि स्वास्थ्य कर्मी कोरोना वायरस से संक्रमित न हो.

संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा हम कोविड 19 को देशव्यापी लेवल पर मॉनीटर करना चाहते हैं. तो उसी के तहत मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने कोविड 19 मैनेजमेंट के लिए एक ट्रेनिंग मॉड्यूल लॉन्च किया है जिसका नाम है इंटीग्रेटेड गवर्नमेंट ऑनलाइन ट्रेनिंग पोर्टल. ये पोर्टल दीक्षा प्लेटफॉर्म से संबंधित है. इस प्लेटफॉर्म के द्वारा डॉक्टर, नर्स, पैरामेडिक्स और साथ ही राज्य के अधिकारी गण, सिविल डिफेंस अधिकारी, एनसीसी , एनएसएस और रेड क्रॉस सोसाइटी के स्वयंसेवकों को और फ्रंटलाइन वर्कर्स को जरूरी संसाधन उपलब्ध करवाए जाएंगे.

गृह मंत्रालय की ओर से बताया गया कि 31 राज्यों/ केंद्र शासित प्रदेशों में रजिस्टर्ड बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन वर्कर्स को भवन एवं अन्य निर्माण श्रमिक कल्याण कोष से 1000 और 6000 रुपए की राहत राशि दी गई है. 2 करोड़ से ज्यादा श्रमिकों को लगभग 3000 करोड़ की राशि दी गई है.

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (ICMR)के अधिकारी ने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण का पता लगाने के लिये अब तक कुल 1,21,271 लोगों की जांच की गई है.