जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने महबूबा मुफ्ती को जेल से भेजा घर, जारी रहेगी हिरासत

भारत में कोरोना का प्रकोप तेजी से बढ़ता जा रहा हैं. भारत में 4,421 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं और अब तक 114 पॉजिटिव लोगों को मौत हो चुकी है.

कोरोना कोरोनावायरस संक्रमण पर नियंत्रित पाने के लिए पीएम मोदी ने पूरे देश में 21 दिनों का लॉकडाउन लगाया हैं. इसी लॉकडाउन में जम्मू -कश्‍मीर की पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती को बड़ी राहत मिली हैं.

हालांकि, उन्हें हिरासत से छूट नहीं मिली है. जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के फैसले से पहले महबूबा मुफ्ती को हिरासत में लिया गया था. अभी वह जन सुरक्षा कानून के तहत हिरासत में हैं.

पूरे देश में लगाए गए लॉकडाउन के बीच जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने जम्मू-कश्मीर की पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती को उनके घर में शिफ्ट कर दिया गया हैं.

आदेश में बताया गया कि महबूबा मु्फ्ती को ट्रांसफर किए जाने से पहले प्रशासन ने उनके आधिकारिक आवास को तत्काल प्रभाव से अधीनस्थ जेल का दर्जा दे दिया.

60 वर्षीय मुफ्ती को पिछले साल पांच अगस्त को एहतियातन हिरासत में रखा गया था, लेकिन बाद में छह फरवरी को उनके खिलाफ सख्त पीएसए के तहत मामला दर्ज किया गया.