कोरोना वायरस को लेकर कहीं इन गलतफहमियों का शिकार तो नहीं हैं आप? जानें ये जरूरी बातें

कोरोना वायरस को लेकर लोगों के मन में कई भ्रम हैं. इन भ्रमों को दूर करने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने भी समय-समय पर गाइडलाईन जारी की है. कई लोगों ऐसे हैं, जिनको लगता है कि गर्म वातावरण में यह संक्रमण खत्म हो सकता है. ऐसे में जरूरी है इससे जुड़ी सभी महत्वपूर्ण बातों के बारे जानकारी होना ताकि किसी भी तरह की गलतफहमी से बचा जा सके. आज हम आपको ऐसी ही कुछ जरूरी बातें बताने जा रहे हैं.

सवाल: मौसम का वायरस पर क्या है असर
जवाब: मौसम का कोरोना वायरस से कोई लेना देना नहीं है. ये लोगों का मिथ है कि मौसम नए कोरोना वायरस या अन्य बीमारियों को मार सकता है. लोगों के शरीर का नार्मल टेम्प्रेचर लगभग 36.5°C से 37°C तक रहता है. इसलिए अपनी सफाई पर ज्यादा से ज्यादा ध्यान देना जरूरी है.

सवाल: हैंड ड्रायर्स हाथों की सफाई के लिए कारगर नहीं
जवाब: COVID-19 को मारने में हैंड ड्रायर्स कारगर नहीं हैं. कोरोना वायरस से बचने के लिए आपको अक्सर अपने हाथों को अल्कोहल-आधारित साबुन और पानी से धोना चाहिए. हाथ धोने के बाद तौलिये या गर्म हवा के ड्रायर से सुखाना चाहिए.

सवाल: क्या मास्क लगाकर कोरोना से बचा जा सकता है
जवाब: कोई भी सर्जिकल मास्क इस तरह डिजाइन नहीं किया गया है कि वह वायरल पार्टिकल्स को ब्लॉक कर सके. लेकिन ये इंफेक्टेड व्यक्ति को वायरस फैलाने से रोकने में मदद कर सकता है.

सवाल: गर्म पानी से नहाने से कोरोना का असर कम हो जाता है
जवाब: यह ऐसा संक्रमण है जिसे गर्म पानी से नहीं रोका जा सकता. नहाने के लिए पानी के टेम्प्रेचर की परवाह किए बिना हाइजिन का ध्यान रखें. दरअसल, बेहद गर्म पानी से नहाना हानिकारक हो सकता है, क्योंकि यह आपको जला सकता है.

सवाल: मच्छर के काटने से भी फैलता है कोरोना
जवाब: अभी तक इस बात का कोई सबूत नहीं है कि कोरोनो वायरस मच्छरों से भी फैल सकता है. यह एक हवा में फैलने वाला वायरस है जो सांस द्वारा फैलता है. जब एक संक्रमित व्यक्ति खांसता या छींकता है तो पानी की बिंदु हवा में फैलते हैं जिससे संक्रमण दूसरे तक पहुंचता है.

सवाल: साबुन नहीं सेनिटाइजर है अच्छा विकल्प
जवाब: सेनिटाइजर की जगह साबुन एक अच्छा विकल्प है क्योंकि हाथ धोने के दौरान ना केवल वायरस मर जाता है बल्कि वह धुल भी जाता है. खासतौर पर जब आपके हाथों पर डस्ट लगी हो तो हैंड-सेनिटाइजर की जगह साबुन का उपयोग ही बेहतर रहता है.

सवाल: विटामिन-सी रोक सकता है कोरोना को
जवाब: विटामिन-C इम्यून सिस्टम को स्ट्रांग बनाता है साथ ही रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाता है. लेकिन अभी तक इस बात का कोई प्रमाण नहीं मिला है कि विटामिन-C से कम होता है या ख़त्म होता है.

सवाल: गौमूत्र कोरोना से बचा जा सकता है
जवाब: भारतीय वायरॉलजिकल सोसायटी के हिसाब से गौमूत्र को ऐंटिवायरल माना जाता है लेकिन ये कोरोना के प्रभाव को कम करता है अभी तक इसके कोई ठोस प्रमाण नहीं मिले हैं.

साभार-न्यूज 18