अमेरिकी वकील ने चीन पर ठोका 200 खरब डॉलर का मुकदमा, दुनिया के लाखों लोगों को संक्रमित करने का आरोप

चीन के वुहान से निकला कोरोना का कहर अब पूरी दुनिया पर भारी पड़ रहा है, क्या भारत क्या अमेरिका और क्या इटली..हर जगह कोरोना संकट की गूंज है, भारत में इसके संकट को रोकने के मकसद से 21 दिन का लॉकडाउन भी पूरे देश में कर दिया गया है, वहीं तमाम लोग इस संकट के लिए चीन को दोषी मान रहे हैं.

ऐसे ही अमेरिकी के एक वकील लैरी केलमेन ने वैश्विक रूप से कोरोनोवायरस के प्रसार पर चीन के खिलाफ 200 खरब डॉलर  का केस दायर किया है. इस मुकदमे में चीन पर दुनिया के 3.34 लाख लोगों को वायरस से संक्रमित करने का आरोप लगाया गया है.

फ्रीडम वॉच नाम के एक वॉचडॉग ग्रुप की वकालत करने वाले केलमैन ने टेक्सास के नॉर्थ डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में मुकदमा दायर किया है, उनका आरोप है कि इस वायरस को चीन ने युद्ध के जैविक हथियार के तौर पर बनाया है और वह इसे आगे बढ़ाते हुए अमेरिकी कानून,अंतरराष्ट्रीय कानून समझौतों और मानदंडों का उल्लंघन कर रहा है.

फ्रीडम वॉच नाम के एक वॉचडॉग ग्रुप की वकालत करने वाले केलमैन ने टेक्सास के नॉर्थ डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में मुकदमा दायर किया है, उनका आरोप है कि इस वायरस को चीन ने युद्ध के जैविक हथियार के तौर पर बनाया है और वह इसे आगे बढ़ाते हुए अमेरिकी कानून,अंतरराष्ट्रीय कानून समझौतों और मानदंडों का उल्लंघन कर रहा है.