सीएम बनते ही एक्‍शन में शिवराज, आधी रात को अधिकारियों की ली बैठक- फिर भोपाल और जबलपुर में कर्फ्यू

शिवराज सिंह ने सोमवार रात 9 बजे मुख्यमंत्री पद की शपथ ली और इसके साथ ही वे एक्‍शन के मोड में आ गए. सबसे पहले उन्होंने कोरोना से निपटने की तैयारियों और स्वास्‍थ्य विभाग के इंतजामों को लेकर आधी रात को एक बैठक ली.

इसके तुरंत बाद भोपाल और जबलपुर में कर्फ्यू लगाने के‌ निर्देश दिए. जिसके बाद भोपाल के कलेक्टर तरुण पिथौड़े ने आधी रात के बाद मंगलवार को भोपाल में कर्फ्यू के आदेश जारी कर दिए. इसके साथ ही जबलपुर में भी कर्फ्यू के लगाने के आदेश जारी कर दिए गए हैं.

बैठक के बाद सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मैं कोराेना से निपटने के लिए जनता से भी सहयोग मांग रहा हूं. उन्होंने लोगों से अपील की कि वे प्रशासन का सहयोग करें और लॉकडाउन के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें. 

इस दौरान उन्होंने कहा कि लॉकडाउन को सख्ती से लागू किया जाए. हालांकि इस दोरान जो भी आवश्यक सामग्री है उसे प्रशासन जरूरतमंदों तक पहुंचानेमें कोई कसर नहीं छोड़ेगा.

गौरतलब है कि जबलपुर में 6 और और भोपाल में कोरोना का एक मरीज पॉजिटिव मिला है. इन मरीजों के मिलने के बाद प्रशासन ने अपने स्तर पर कदम उठाते हुए टोटल लॉक डाउन किया था. सीएम पद की शपथ लेते ही शिवराज सिंह चौहान ने बैठक में इन दोनों जिलों की वर्तमान स्थिति की जानकारी ली और इसे गंभीरता से लेते हुए कर्फ्यू लगाने का फैसला किया.

शिवराज ने अधिकारियों को यह निर्देश भी दिए कि आम जनता को किसी तरह की कोई दिक्कत न हो, इसका भी प्रशासन ध्यान रखे. साथ ही जनता तक आवश्यक सामान पहुंचाने की व्यवस्था भी करें.