आईसीएमआर ने दी कोरोना वायरस टेस्ट के लिए पहली मेड इन इंडिया टेस्ट किट को मंजूरी

इंडियन काउंसिल फॉर मेडिकल रिसर्च ने कोरोना वायरस टेस्ट के लिए पहली मेड इन इंडिया टेस्ट किट को मंजूरी दे दी है. बताया जा रहा है कि यह भारतीय नागरिकों के लिए एक चौथाई कीमत पर उपलब्ध होगी. जिसके लिए पुणे की एक कंपनी मायलैब को इसकी जिम्मेदारी दी गई है.

रिपोर्ट के अनुसार मायलैब के द्वारा निर्मित एक किट से 100 मरीजों का टेस्ट किया जा सकेगा. साथ ही मायलैब ने वादा किया है कि वो हर हफ्ते 1 लाख किट का निर्माण करेगी. जिसका नाम मायलैब पैथोडिटेक्ट कोविड-19 क्वालिटेटिव पीसीआर किट रखा गया है.

जानकारी के अनुसार इस किट को केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन ने भी मंजूरी दे दी है. इसकी जानकारी मायलैब डिस्कवरी सॉल्यूंसन्स के महानिदेशक हसमुख रावल ने दी है.

कोरोना वायरस की जांच के लिए टेस्ट किट अभी तक जर्मनी से मंगवाई जा रही थी. लेकिन दूसरे देश पर निर्भर होना अभी काफी मुश्किल हो सकता है. जब सभी तरह की हवाई उड़ानों पर रोक लगा दी गई है.

जानकारी के अनुसार दक्षिण कोरिया और सिंगापुर टेस्ट किट की मदद से ही इस वायरस को रोक पाने में सफल हो पाए हैं. अगर भारत भी इसमे कामयाब रहा तो जल्दी ही इस वायरस को भारत से मिटाया जा सकेगा.