कोरोना वायरस पर नारायण मूर्ति के दामाद ऋषि सुनक ने दिया ऐसा प्लान, लोग हुए मुरीद- उठी पीएम बनाने की मांग

लंदन|……. कोरोना वायरस का कहर ब्रिटेन में भी बड़े पैमाने पर है.यहां भी 5 हजार से ज्यादा लोग इसकी चपेट में हैं. यहां की कई कंपनियों के सामने आर्थिक संकट खड़ा हो गया है. ऐसे में सरकार ने कई आर्थिक पैकेज का ऐलान किया है. इसी दौरान जब ब्रिटेन के वित्त मंत्री ऋषि सुनक  ने कोरोना वायरस के चलते आर्थिक संकट पर अपनी बात रखी तो लोग उनकी मुरीद हो गए. उन्होंने कहा कि हम अपने लोगों के साथ खड़े रहेंगे और हम अपनी बात पर पक्के थे. आप अकेले नहीं हैं.

ऋषि सुनक के ये शब्द लोगों को इतने पसंद आए कि ट्विटर पर #RishiforPM जैसे हैशटैग ट्रेंड करने लगे. कई लोग कहने लगे कि उन्हें देश का अगला प्रधानमंत्री होना चाहिए. लोगों का कहना है कि भले ही ऋषि कंज़र्वेटिव पार्टी में हैं, लेकिन उनकी सोच अपनी पार्टी से अलग है.

क्या कहा उन्होंने?
दरअसल कोरोना वायरस के चलते कई कंपनियों की हालत बेहद खराब है वो सैलरी देने की हालत में भी नहीं हैं. ब्रिटेन में हज़ारों नौकरियों पर ख़तरा पैदा हो गया है. ऐसे में ऋषि ने ऐलान किया कि सरकार ने उन कर्मचारियों का वेतन देने का फैसला किया है जो कोरोना वायरस के चलते काम नहीं कर पा रहे. इसके अलावा सरकार उन कर्मचारियों के वेतन का 80 फीसदी हिस्सा कंपनियों को देगी, जिन्हें नौकरी से नहीं निकाला जाएगा. इसके अलावा कपंनियों को ब्याज मुक्त लोनदेने का भी प्रावधान है.

भारत से ऋषि सुनक के रिश्ते
ऋषि मूल रूप से भारत के पंजाब से ताल्लुक रखते हैं. उनका परिवार काफी पहले ब्रिटेन चला गया था. उनके दादा-दादी का जन्म पंजाब में हुआ था. उनके पिता ब्रिटेन में ही डॉक्टर थे. ऋषि सुनक इंफोसिस के फाउंडर नारायण मूर्ति के दामाद हैं. नारायण मूर्ति की बेटी अक्षता मूर्ति और ऋषि की मुलाकात स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ाई के दौरान हुई थी. दोनों की शादी साल 2009 में हुई थी.