कोरोना: जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल क्वॉरंटीन में गईं, दवा देने वाला डॉक्टर निकला पॉजिटिव

बर्लिन|…. जर्मनी की चांसलर एजेंला मर्केल खुद को घर में ही पृथक रखेंगी. उस डॉक्टर को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने पर मर्केल ने यह फैसला लिया है, जिसने उनका इलाज किया था. सरकार के एक प्रवक्ता ने रविवार को यह जानकारी दी.

इसके अलावा कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए जर्मनी में दो से अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है. बता दें कि जर्मनी में अब तक कोरोना के चलते 93 लोगों की मौत हो चुकी है.

जर्मन चांसलर मर्केल को वैक्सीन देने वाले डॉक्टर को पाया गया कोरोना पॉजिटिव
बताया गया है कि कुछ समय पहले ही एक डॉक्टर ने एंजेला मर्केल को न्यूमोकोकल इन्फेक्शन से बचाव की वैक्सीन दी थी. लेकिन अब वही डॉक्टर कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है.

जर्मनी में कोरोना से सुरक्षा के कदमों के बारे में बताने के लिए आयोजित की गई प्रेस कांफ्रेस के तुरंत बाद ही यह जानकारी एंजेला मर्केल को दी गई. जिसके बाद उन्होंने तय किया कि वे घर पर ही रहेंगीं और वहीं से शासन का कामकाज संभालेंगीं. उनके प्रवक्ता सीबर्ट ने बताया है कि मर्केल के कुछ जरूरी टेस्ट भी किए जाएंगे.

जर्मनी ने कोरोना से बचाव के लिए कड़े किए सोशल डिस्टेंसिंग के नियम
बता दें कि इससे पहले कोरोना को लेकर की गई प्रेस कॉन्फ्रेंस में जर्मनी ने कोरोना के प्रसार से बचाव के लिए कई सारे एहतियाती नियमों की घोषणा की. जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर नियम और कड़े करते हुए घर से बाहर सिर्फ एक इंसान के संपर्क में रहने की इजाज़त दी गई है.

इसके अलावा सिर्फ टेकआउट और डिलिवरी सर्विसेज के लिए रेस्टोरेंट खोलने की बात कही गई है. साथ ही हेयरड्रेसर, मसाज पार्लर और टैटू स्टूडियो आदि बंद करने के निर्देश दिए गए हैं.

इन सबके अलावा जर्मनी में सभी को कम से कम दूसरे व्यक्ति से डेढ़ मीटर की दूरी बनाए रखने को कहा गया है.