अगर आप भी बीएसएनएल की इस मुफ्त इंटरनेट का फायदा पाना चाहते हैं, तो जानें क्या करना होगा

सार्वजनिक क्षेत्र की दूरसंचार कंपनी बीएसएनएल ने शुक्रवार को अपने लैंडलाइन और नए ग्राहकों के लिए एक महीने की मुफ्त ब्रांडबैंड सेवा देने की घोषणा की है. इस पहल का मकसद लोगों को घर से काम करने को आसान बनाने में मदद करना है. कोरोना वायरस महामारी के कारण विभिन्न कंपनियों एवं संगठनों ने अपने कर्मचारियों को घर से काम करने को कहा है.

बीएसएनएल अधिकारियों ने कहा कि नए ग्राहक अगर कॉपर आधारित केबल कनेक्शन का ऑप्शन चुनते हैं तो उन्हें उसे लगाने तक का शुल्क भी नहीं देना होगा. हालांकि, उन्हें सेवा के लिये मोडेम लेना होगा.

बीएसएनएल के निदेशक (सीएफए) विवेक बंजाल ने एक बयान में कहा कि देश के सभी नागरिकों को एक महीने के मुफ्त ब्रांडबैंड सेवा दी जाएगी. ये सेवा उन लोगों को मिलेगी जिनके पास बीएसएनएल लैंडलाइन है और कोई ब्राडबैंड नहीं है. वे इसका इस्तेमाल घर से काम करने, घर से शिक्षा या कोई भी ऐसा काम करने में कर सकते हैं जिसके लिए बाहर जाने की जरूरत है.

बीएसएनएल के एक अन्य अधिकारी ने कहा कि ये योजना नए ग्राहकों के लिये भी है और एक महीने के उपयोग के बाद उन्हें आगे की सेवा के लिय भुगतान करना होगा.

अधिकारी के अनुसार जो ग्राहक आप्टिकल फाइबर कनेक्शन का चयन करते हैं, उन्हें ब्राडबैंड लगाने का कोई शुल्क नहीं लगेगा. बीएसएनएल ग्राहक फोन पर ही कनेक्शन के लिए आवेदन कर सकते हैं. बंजाल ने कहा कि हमने पूरी प्रक्रिया कागज रहित की है और ग्राहकों को ब्राडबैंड सेवा के लिए हमारे ग्राहक सेवा केंद्र पर आने की जरूरत नहीं है.