मध्यप्रदेश: फ्लोर टेस्ट से पहले कमलनाथ दे सकते है इस्तीफा

मध्य प्रदेश में सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद शुक्रवार को कमलनाथ सरकार को अपना फ्लोर टेस्ट पास करना होगा.

इसको लेकर कोर्ट ने आदेश दे दिया है. ऐसे में खबर है कि फ्लोर टेस्ट से पहले कमलनाथ अपना इस्तीफा दे सकते हैं. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, कांग्रेस के 22 विधायकों के इस्तीफो के स्वीकार करने के बाद कमलनाथ विश्वास मत के साथ आगे नहीं बढ़ सकते.

सूत्रों के मुताबिक, कमलनाथ फ्लोर टेस्ट से पहले अपने इस्तीफा दे सकते हैं. क्योंकि बहुमत साबित करने के लिए उनके पास संख्या नहीं है. जबकि भाजपा के पास 106 विधायकों का समर्थन हासिल है. एमपी विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति ने 6 अन्य विधायकों के इस्तीफे को स्वीकर कर लिया था। बाकी को स्वीकर नहीं किया था.

बेंगलुरु के बाहरी इलाके में एक रिसॉर्ट में रह रहे 16 बागी कांग्रेस विधायकों के इस्तीफे को भी अब स्वीकार कर लिया है. स्पीकर ने छह के इस्तीफे को स्वीकार कर लिया था, जो पहले कमलनाथ मंत्रिमंडल में मंत्री थे. यह निर्णय सुप्रीम कोर्ट के द्वारा दिए गए एक फ्लोर टेस्ट में बहुमत साबित करने से घंटों पहले लिया गया.

कमलनाथ सरकार को शुक्रवार को शाम 5 बजे तक फ्लोर टेस्ट पास करना होगा. स्पीकर ने सभी 22 कांग्रेस विधायकों के इस्तीफे को स्वीकार करने के बाद पार्टी में अब 92 विधायक हैं. भाजपा के पास सदन में 107 सीटें हैं, जिसमें अब 206 की प्रभावी ताकत है, जिसमें बहुमत का निशान 104 है. ऐसे में कांग्रेस के सामने एक बड़ी समस्या है.