भाजपा के पैदा किए संकट में कांग्रेस की जीत होगी : कमल नाथ

मध्यप्रदेश में जारी सियासी ऊहापोह की स्थिति के बीच मुख्यमंत्री कमल नाथ ने दावा किया है कि “भाजपा द्वारा अनैतिक और असंवैधानिक रूप से पैदा किए गए संकट के इस दौर में जीत हमारी (कांग्रेस की) होगी, हर हाल में होगी, हम सब एकजुट हैं.

लोकतंत्र और प्रजातंत्रिक मूल्यों की रक्षा के लिए हमारा मनोबल शीर्ष पर है.” मुख्यमंत्री आवास पर रविवार की रात को हुई विधायक दल की बैठक में कमल नाथ ने कहा, “सभी पूछते हैं कि मैं संकट के इस दौर में भी मुस्कुरा क्यों रहा हूं, तो वो इसलिए कि हमारी हर हाल में जीत होगी. हम सब एकजुट हैं, मुझे अपने विधायकों पर पूरा विश्वास है और मेरी मुस्कुराहट के पीछे आप सबके चेहरों पर दिख रही मुस्कुराहट है.”

मुख्यमंत्री ने कहा, “हमारे विधायक जयपुर गए, हमने उन्हें बंधन में नहीं भेजा, हमने उन्हें इसलिए भेजा कि वे एक परिवारिक माहौल में एक साथ रहें. हमारे विधायक वहां घूमते रहे, मोबाइल का उपयोग बगैर रोक-टोक के करते रहे. वहीं भाजपा के नेता दिल्ली के इशारे पर कांग्रेस के विधायकों को बेंगलुरू में आज भी बंधक बनाकर रखे हुए हैं. उन्हें परिवार तक से बात करने की इजाजत नहीं है.”

कमल नाथ ने सवाल किया, “उन्हें भोपाल क्यों नहीं लाया जा रहा है? हमसे कहा जा रहा है कि फ्लोर टेस्ट करवाइए, तो कैसा फ्लोर टेस्ट. पहले बंधक विधायकों को स्वतंत्र तो करिए, उन्हें भोपाल तो लाइए.”

मुख्यमंत्री ने आगे कहा, “भाजपा के भी 21 विधायक अगर बंधक बना लिए जाएं तो क्या फ्लोर टेस्ट संवैधानिक होगा?”

कमल नाथ ने राज्य सरकार द्वारा माफियाओं के खिलाफ चलाए गए अभियान का जिक्र करते हुए कहा, “पिछले 15 माह में हमने माफियाओं के खिलाफ अभियान चलाया, मिलावट के खिलाफ अभियान चलाया. भाजपा की पूर्ववर्ती सरकार के घोटालों व भ्रष्टाचार को उजागर करने वाले थे. इसलिए भाजपा हमें अस्थिर करने की साजिश रच रही है. पूरी कांग्रेस एकजुट होकर भाजपा की साजिश का मुकाबला करेगी. विकास के रास्ते पर हम साथ चलते रहेंगे.”

बैठक में मौजूद कांग्रेस के पर्यवेक्षक व उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने भाजपा पर हमला करते हुए कहा, “भाजपा का मूल चरित्र है लोकतंत्र की हत्या करना. भाजपा ने उत्तराखंड में भी कांग्रेस की सरकार को गिराने का इसी तरह का प्रयास किया था. मैं मुख्यमंत्री कमल नाथ को बधाई देता हूं कि भाजपा की हर साजिश का अपने कांग्रेस विधायकों के साथ एकजुट होकर डटकर मुकाबला कर रहे हैं. उनका यह जज्बा काबिलेतारीफ है.”

वहीं, मुकुल वासनिक ने कहा, “भाजपा का यह षड्यंत्र पूरा देश देख रहा है. हमारे देश की संस्कृति और एकजुट रखने की विचारधारा के खिलाफ यह हमला है. इसे हम सफल नहीं होने देंगे. यहां पर बैठे सभी विधायकों का ऊंचा मनोबल देखकर पूरा विश्वास है कि भाजपा की हर साजिश बेनकाब और असफल होगी.”

बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, सांसद विवेक तन्खा, पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी एवं अरुण यादव उपस्थित थे.