कोरोना वायरस से भारत में तीसरी मौत की पुष्टि, सऊदी अरब से लौटे थे 71 वर्षीय बुजुर्ग

सऊदी अरब से हाल में लौटे 71 वर्षीय कोरोना वायरस के संदिग्ध मरीज की महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले में शनिवार दोपहर मौत हो गई. अस्पताल के अधिकारी ने बताया कि मृतक मधुमेह और उच्च रक्तचाप का मरीज था. सिविल सर्जन प्रेमचंद पंडित ने बताया कि कुछ दिन पहले उच्च रक्तचाप की शिकायत होने पर मरीज को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था और शनिवार सुबह कोरोना वायरस से संक्रमण के लक्षण सामने आने पर बुलढाणा के जनरल अस्पताल में स्थानांतरित किया गया था.’

उन्होंने बताया, ‘मृतक के नमूने परीक्षण के लिए प्रयोगशाला भेजे गये है. उसकी मौत दोपहर चार बजकर 20 मिनट पर हुई और जांच रिपोर्ट की प्रतीक्षा की जा रही है. वहीं राज्‍य में बढ़ते मामलों को देखते हुए महाराष्‍ट्र सरकार ने सभी सरकारी, गैर सरकारी स्‍कूलों को 31 मार्च तक बंद रखने का आदेश दिया है.

इससे पहले दिल्ली में भी एक महिला ने शुक्रवार को दम तोड़ दिया. बताया जा रहा है कि महिला की उम्र 69 साल थी और वह कोरोना वायरस की चपेट में थी. महिला दिल्ली के जनकपुरी इलाके की रहने वाली थी.

कर्नाटक में चार दिन पहले हुई 76 वर्षीय एक बुजुर्ग व्यक्ति की मौत भारत में कोरोना वायरस संक्रमण से हुई पहली मौत थी. इस संबंध में राज्य सरकार ने गुरुवार को बताया था कि इस व्यक्ति के कोरोना वायरस से संक्रमित होने का संदेह था, जिस कारण उसका इलाज चल रहा था. मौत से पहले लिए गए उसके सैंपल की जांच में कोविड-19 संक्रमण की पुष्टि हुई है.

नागपुर में एक और व्यक्ति के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि होने के बाद शहर में इस रोग के चार और महाराष्ट्र में 20 मामले हो गये हैं. अधिकारियों ने कहा, ‘नागपुर में 43 वर्षीय एक व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया. उसे शहर के सरकारी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में भर्ती कराया गया है.’उन्होंने कहा, ‘उसने उस व्यक्ति के साथ अमेरिका की यात्रा की थी जो शहर में कोरोना वायरस से संक्रमित पाया जाने वाला पहला व्यक्ति था.’ इसी के साथ नागपुर में कोरोना वायरस के कुल मामले बढ़कर अब चार हो गये. महाराष्ट्र में अब तक सामने आये कुल 20 मामलों में 10 पुणे से, चार मुम्बई से, एक एक ठाणे एवं अहमदनगर से तथा चार नागपुर से हैं.