मध्यप्रदेश : सियासी संकट के बीच कमलनाथ ने की राज्यपाल से मुलाकात

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शुक्रवार को राज्यपाल लालजी टंडन से मुलाकात की.राज भवन से बाहर निकलते समय उन्होंने विक्ट्री का साइन बनाया. मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राज्यपाल लालजी टंडन को पत्र सौंपा, जिसमें विधानसभा के आगामी सत्र में अध्यक्ष द्वारा निर्धारित तिथि पर फ्लोर टेस्ट की मांग की गई है. उन्होंने राज्यपाल को एक पत्र सौंपकर बेंगलुरू में मौजूद 22 बागी विधायकों की रिहाई सुनिश्चित कराने की भी मांग की।

कहा जा रहा है कि 16 मार्च से शुरू हो रहे बजट सत्र में राज्यपाल के अभिभाषण के मुद्दे के अलावा राजनीतिक परिदृश्य पर भी सीएम ने उनके साथ चर्चा की.

भाजपा लगातार वर्तमान सरकार को अल्पमत की सरकार बता रही है. पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने वर्तमान हालात के बीच राज्यपाल के अभिभाषण पर सवाल उठाए हैं, साथ ही कहा है कि ‘यह सच्चाई है कि, इस सरकार ने बहुमत खो दिया है, अब ऐसी सरकार कैसे राज्यपाल का अभिभाषण करा सकती है और सत्र बुला सकती है.’

ज्ञात हो कि, राज्य सरकार के मंत्री गोविंद सिंह राजपूत, प्रद्युम्न सिंह तोमर, इमरती देवी, तुलसी सिलावट, प्रभुराम चौधरी, महेंद्र सिंह सिसौदिया के अलावा विधायक हरदीप सिंह डंग, जसपाल सिंह जज्जी, राजवर्धन सिंह, ओपीएस भदौरिया, मुन्ना लाल गोयल, रघुराज सिंह कंसाना, कमलेश जाटव, बृजेंद्र सिंह यादव, सुरेश धाकड़, गिरराज दंडौतिया, रक्षा संतराम सिरौनिया, रणवीर जाटव, जसवंत जाटव इस्तीफे दे चुके है.