भोपाल पहुंचे सिंधिया, ‘मैं सबकुछ पीछे छोड़ आया हूं और आपको खुद को सौंपता हूं’

कांग्रेस का हाथ छोड़ बीजेपी का दामन थामने वाले ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया गुरुवार को मध्‍य प्रदेश की राजधानी भोपाल पहुंचे, जहां बीजेपी नेता, कार्यकर्ताओं ने उनका जोरदार स्‍वागत किया. भोपाल एयरपोर्ट पर सिंधिया के स्‍वागत में बड़ी संख्‍या में नेता व कार्यकर्ता पहुंचे थे, जिन्‍होंने पूर्व कांग्रेस नेता का फूलमालाओं से स्‍वागत किया. उनके बीजेपी से जुड़ने की खुशी में पार्टी के कार्यकर्ता एयरपोर्ट पर नाचते-गाते भी दिखाई दिए.

लगभग 2 दशक कांग्रेस में बिताने के बाद बीजेपी से जुड़ने वाले सिंधिया ने कहा, ‘मैं सबकुछ पीछे छोड़ आया हूं और आपको खुद को सौंपता हूं.’ इस मौके पर उन्‍होंने मध्‍य प्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान की भी जमकर तारीफ की और कहा कि आज प्रदेश में सिर्फ दो नेता हैं, जो अपनी कार में एसी लगाकर नहीं चलते. इनमें से एक वह खुद हैं तो दूसरे शिवराज सिंह चौहान. उन्‍होंने यह भी कहा कि 1 और 1 दो नहीं, बल्कि 11 होना चाहिए.

सिंधिया पिछले कुछ दिनों से मध्‍य प्रदेश में मुख्‍यमंत्री कमलनाथ की सरकार पर छाए संकट के बाद से ही सुर्खियों में थे. उन्‍होंने होली के दिन (10 मार्च) को कांग्रेस से इस्‍तीफे की घोषणा की. पार्टी अध्‍यक्ष सोनिया गांधी को लिखे पत्र में उन्‍होंने कहा कि अब आगे बढ़ने का समय आ गया है. उनका मंगलवार को जो इस्‍तीफा पत्र सामने आया, उसमें 9 मार्च की तारीख लिखी थी, जिससे साफ हो गया कि उन्‍होंने पहले ही कांग्रेस छोड़ने का फैसला कर लिया था.

राजा भोज एयरपोर्ट से सिंधिया प्रदेश बीजेपी मुख्‍यालय के लिए रवाना हुए, जिनके साथ पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं की भारी भीड़ थी. सिंधिया 13 मार्च को भी बीजेपी दफ्तर जाने वाले हैं. इसके बाद वह विधानसभा के लिए रवाना होंगे, जहां वह राज्‍यसभा के लिए अपना नामांकन करेंगे. 18 साल कांग्रेस में बिताने के बाद सिंधिया बुधवार को बीजेपी से जुड़ गए थे. इससे पहले मंगलवार को उन्‍होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी.

सिंधिया के स्वागत कार्यक्रम में पूर्व सीएम ने कमलनाथ सरकार के ऊपर भी जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा, ‘किसानों के लिए पैसा नहीं है, लेकिन आइफा के लिए पैसा है. पीने का पानी नहीं दे पाए कमलनाथ और दारू की दूकान खोलूंगा, कहते थे…, इसलिए क्योंकि पियें और वादे भूल जाएं. अच्छे लोगों को संगत होती तो ठीक था लेकिन साथ लिए मिस्टर बंटाधार काहम तो डूबे सनम तुमको भी ले डूबे.’ शिवराज ने कहा कि मैंने कहा था कि कमलनाथ मेरे कार्यकर्ता की आंख में आए एक-एक आंसू का बदला लूंगा. आज हम ये संकल्प करते हैं जब तक आपके अत्याचार और भ्रष्टाचार की लंका को जलाकर राख न कर दें तब तक चैन की सांस नहीं लेंगे.

कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने सिंधिया का स्वागत करते हुए कहा, ”मैं केंद्रीय मंत्री और बीजेपी कार्यकर्ता होने के नाते ये सुनिश्चित करता हूं कि आपको बीजेपी की तरफ से कभी कोई शिकायत का मौका नहीं मिलेगा.’