लंदन में रहने वाली यह लड़की नीतीश कुमार को देने आ रही है चुनौती, जानें कौन है मिस्‍ट्री गर्ल

बिहार विधानसभा चुनाव इस साल अक्टूबर और नवंबर में होने की संभावना है. प्रदेश के सबसे लोकप्रिय नेता नीतीश कुमार लंबे समय से बिहार में मुख्यमंत्री बने हुए हैं. वह एनडीए से साथ रहते हैं तो उसका पलड़ा भारी होता है. जब महागबंधन का हिस्सा थे तब वह मजबूती के साथ प्रदेश की सत्ता में उभर कर सामने आया. कह सकते हैं कि बिहार की राजनीति में सत्ता के शीर्ष पर पहुंचना नीतीश कुमार के बिना संभव नजर नहीं आ रहा है. लेकिन उनकी ही पार्टी के एक एमएलसी की बेटी उन्हें चुनौती देने के लिए लंदन से आ रही हैं.

जनता दल यूनाइटेड के एमएलसी विनोद चौधरी की बेटी पुष्पम प्रिया चौधरी ने खुद को बिहार में विधानसभा चुनाव के लिए “मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार” घोषित किया है. प्रिया जो दरभंगा की रहने वाली है, लेकिन वह लंदन में रहती है. उसने पूरे पेज के विज्ञापन के जरिए इसकी घोषणा की. यह विज्ञापन रविवार को बिहार के कई हिंदी और अंग्रेजी अखबारों में छपी है. विज्ञापन में उन्होंने खुद को प्लुरल्स का अध्यक्ष बताया और बिहार से सीएम कैंडिडेट के तौर पर उल्लेख किया.

पुष्पम प्रिया चौधरी ने ट्वीट किया, बिहार को गति चाहिए, बिहार को पंख चाहिए, बिहार को बदलाव चाहिए. क्योंकि बिहार बेहतर और बेहतर का हकदार है. बकवास राजनीति को खारिज करें, बिहार को 2020 में तेजी से आगे ले जाने के लि और उड़ान भरने के लिए प्लुरल्स से जुड़ें.

वर्तमान में, बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में बीजेपी-जदयू-लोजपा गठबंधन का शासन है.

प्रियम ने कहा कि अगर वह बिहार की सीएम बन जाती हैं तो वर्ष 2025 तक बिहार को देश का सबसे विकसित राज्‍य बना देंगी. यही नहीं वर्ष 2030 तक बिहार विकास के मामले में यूरोपीय देशों जैसा हो जाएगा. पुष्पम प्रिया चौधरी के बारे में बताया जाता है कि वह दरभंगा निवासी हैं और जेडीयू के पूर्व एमएलसी विनोद चौधरी की बेटी हैं.

पुष्‍पम फिलहाल लंदन में ही रहती हैं. वह कहती हैं कि बिहार उनका पहला प्‍यार है और अब वह राज्‍य के लिए काम करना चाहती हैं. पुष्‍पम के पिता विनोद चौधरी नीतीश कुमार के करीबी रहे हैं. माना जा रहा है कि उन्‍होंने पूरी योजना बनाकर पुष्‍पम को चुनावी मैदान में उतारा है.