दिल्ली दंगे में पुलिस पर पिस्टल तानने वाला मोहम्मद शाहरुख गिरफ्तार

मंगलवार को दिल्ली हिंसा का चेहरा बन चुके शाहरूख आखिरकार पुलिस के हत्थे चढ़ गया. दिल्ली पुलिस ने उसे बरेली से गिफ्तार किया. शाहरूख बीते एक सप्ताह से पुलिस को चकमा दे रहा था. शाहरूख ने उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा के दौरान जाफराबाद इलाके में एक हेड कान्सटेबल के ऊपर पिस्तल तानी थी. इस घटना का वीडियो एवं तस्वीरें मीडिया एवं सोशल मीडिया में वायरल हुईं जिसके बाद उसकी गिरफ्तारी की मांग उठने लगी.

पुलिस का कहना है कि हिंसा के दौरान शाहरूख ने 8 राउंड फायरिंग की थी. पुलिस फायरिंग की घटना के बाद से ही उसका तलाश कर रही थी. फायरिंग और कॉन्स्टेबल पर पिस्तौल तानने की घटना के बाद उपद्रवी शाहरूख और उसका परिवार लापता थे. शाहरुख की गिरफ्तारी इसलिए भी अहम हो जाती है क्योंकि इससे पुलिस को आगे जांच में मदद मिल सकती है और हिंसा के लिए जिम्मेदार कुछ अन्य नाम भी सामने आ सकते हैं. बीते दिनों राजधानी दिल्ली में भड़की हिंसा में 45 से ज्यादा लोगों ने अपनी जान गंवा चुके हैं.

शाहरुख का अपराध से पुराना नाता है. उसके आपराधिक रिकॉर्ड्स पहले से मौजूद हैं. यही नहीं उसका पिता भी गैंग से जुड़ा हुआ है और तस्करी करता है. शाहरुख के फरार होने के बाद पुलिस की कई टीमें उसकी सरगर्मी से तलाश कर रही थीं. पुलिस को सूत्रों से यह जानकारी मिली थी कि वह बरेली में छिपा हो सकता है. इसके बाद दिल्ली पुलिस ने उसे पकड़ने के लिए जाल बिछा दिया.