बीएसएफ ने 31 रोहिंग्या मुसलमानों को त्रिपरा पुलिस को सुपूर्द किया

सीमा सुरक्षा बल(बीएसएफ) ने मंगलवार को भारत-बांग्लादेश सीमा पर 18 जनवरी से फंसे 31 रोहिंग्या मुसलमानों को त्रिपुरा पुलिस को सुपूर्द कर दिया. बीएसएफ के एक अधिकारी ने आईएएनएस से कहा, “उनके भाग्य पर फैसला दिल्ली में उचित अधिकारी करेंगे.”

उप-विभागीय पुलिस अधिकारी अजय दास ने कहा कि अदालत के आदेश के बाद यहां 31 लोग अब न्यायिक हिरासत में होंगे. दास ने मीडिया से कहा, “हमने पासपोर्ट अधिनियम के तहत उनके विरुद्ध एक मामला दर्ज करवाया है, बच्चे समेत उन्हें बालगृह में रखा जाएगा.”

नौ महिलाओं और 16 बच्चों समेत 31 लोग पश्चिमी त्रिपुरा के भारत-बांग्लादेश की जीरो लाइन पर फंसे हुए थे. इस बाबत बीएसएफ और बार्डर गार्ड्स बांग्लादेश के बीच बैठकें हुई थीं, लेकिन बांग्लादेश ने रोहिंग्याओं को वापस लेने से मना कर दिया था.

इसबीच सोमवार रात त्रिपुरा-असम सीमा पर 30 और रोहिंग्याओं को हिरासत में लिया गया. उत्तर त्रिपुरा जिला पुलिस अधीक्षक भानुपाड़ा चक्रबर्ती ने मीडिया से कहा कि उन्हें चुराईबारी में गुवाहाटी जाने वाली बस से असम पुलिस ने गिरफ्तार किया.