भाजपा के खिलाफ 10 पार्टियों की एकजुट बताती है कि मजबूत कौन : रजनीकांत

सुपरस्टार रजनीकांत ने मंगलवार को कहा कि यह तो लोगों को चुनना है कि क्या भाजपा (भारतीय जनता पार्टी) एक ‘खतरनाक’ पार्टी है या नहीं, लेकिन उन्होंने कहा कि अगर 10 पार्टियां इसके खिलाफ एकजुट होती हैं, तो यह दिखाता है कि कौन मजबूत है. अभिनेता ने सोमवार को दिए अपने बयान से हुए नुकसान की भरपाई की कोशिश करते हुए मंगलवार को मीडिया से बातचीत की.

सोमवार को यह पूछे जाने पर कि क्या भारतीय जनता पार्टी एक ‘खतरनाक पार्टी’ है? रजनीकांत ने कहा था, “अगर वे (गैर-भाजपा दल) कहते हैं कि वह ऐसी है, तो वे निश्चित रूप से सही होंगे.”

वहीं, मंगलवार को उन्होंने कहा, “यह तो लोग ही फैसला करेंगे कि कौन खतरनाक है. मैं अपनी राय नहीं दूंगा, क्योंकि अभी भी मैं राजनीति में उतरा नहीं हूं. यह तो लोग फैसला करेंगे (भाजपा के बारे में). लेकिन सच यह है कि अगर 10 पार्टियां किसी एक पार्टी के खिलाफ एकजुट हुई हैं, तो यह दिखाता है कि कौन मजबूत है.”

वहीं, राजीव गांधी की हत्या के मामले के सात दोषियों को छोड़ने की मांग वाली याचिका के तमिलनाडु के राज्यपाल के पास लंबित रहने को लेकर पूछे गए प्रश्न के जवाब में उन्होंने कहा, “कौन, कौन सात लोग? मैं इस बारे में नहीं जानता.”

लेकिन मंगलवार को अपनी गलती ठीक करते हुए रजनीकांत ने कहा, “रजनीकांत बेवकूफ नहीं है, जो उन सात अपराधियों के बारे में नहीं जानता है. मैं समझता हूं कि उन्होंने 27 साल जेल में बिताए हैं और मानवता के आधार पर उन्हें अब जेल से आजाद कर दिया जाना चाहिए.”

उन्होंने याद करते हुए कहा कि उनमें से एक अपराधी पेरारीवलन से उन्होंने फोन पर बात की थी और उसे सांत्वना दी थी, जब वह पैरोल पर बाहर आया था. रजनीकांत ने मंगलवार को यह प्रतिक्रिया सोशल मीडिया पर हैशटैग रजनीकांत को कुछ नहीं पता के शीर्ष में ट्रेंड करने के बाद दी है.