FILM REVIEW: ‘बागी 2’ में मजा लीजिए टाइगर के खतरनाक स्टंट्स और एक्टिंग का

‘बागी’ 2016 में रिलीज हुई थी और उस फिल्म में श्रद्धा कपूर लीड रोल में दिखाई दीं थी. दोनों की ऑन-स्क्रीन जोड़ी को लोगों ने काफी पसंद किया था और फिल्म उस वक्त हिट रही थी. हालांकि, अब फिल्म के सीक्वल में लीड रोल दिशा पटानी निभा रही हैं.

बॉलीवुड एक्टर टाइगर श्रॉफ की फिल्म ‘बागी 2’ सिनेमाघरों में रिलीज हो चुकी है. इस फिल्म को अहमद खान डायरेक्ट कर रहे हैं. वहीं फिल्म का निर्माण साजिद नाडियावाला के बैनर तले किया जा रहा है. फिल्म में टाइगर और दिशा के अलावा रणदीप हुड्डा, मनोज वाजपेयी, दीपक डोबरियाल और प्रतीक बब्बर मुख्य भूमिकाओं में हैं.

फिल्म में टाइगर ने कई खतरनाक स्टंट्स किए हैं, जो दर्शकों को बेहद पसंद आने वाली है. बता दें, टाइगर श्रॉफ अपनी फिल्मों में खतरनाक से खतरनाक स्टंट्स खुद करते हैं. इसके लिए वे किसी बॉडी डबल का इस्तेमाल नहीं करते. वैसे तो टाइगर अपनी सभी फिल्मों में हमें एक्शन ही करते नजर आते हैं, और यही उनकी यूएसपी है. लेकिन, ‘बागी 2’ में उन्होंने अपने आपको पहले से भी ज्यादा डेवलप किया है. इसलिए टाइगर को इस फिल्म में धमाकेदार एक्शन करते हुआ देखा गया. फिल्म में टाइगर का एक नया ट्रांसफॉर्मेशन देखने को मिलेगा. इस बार वह पूरी तरह से एक किलर लुक में नजर आए. छोटे-छोटे बालों के साथ बिलकुल आर्मी लुक में वह इस बार एक एक्शन हीरो के रूप में हमारे सामने आए हैं.

फिल्म में टाइगर श्रॉफ ने एक्टिंग आपको पसंद आने वाली है और साथ ही उनका डांस भी हमेशा की तरह आपका दिल जीत लेगा. वहीं, अगर दिशा पटानी की बात करें तो टाइगर के साथ उनकी कैमिस्ट्री खूब जमती हुई नजर आई. फिल्म में टाइगर और दिशा के अलावा डीआईजी के रोल में मनोज वाजपेयी मनोज वाजपेयी, एसीपी के रोल में रणदीप हुड्डा, उस्मान लंगड़ा की भूमिका में दीपक डोबरियाल और प्रतीक बब्बर ने भी ठीक-ठाक काम किया है, लेकिन पूरी फिल्म टाइगर पर ही फोकस है. कास्टिंग से लेकर फिल्म के क्लाइमैक्स तक अहमद खान द्वारा निर्देशित फिल्म ‘बागी 2’ जबरदस्त है.

फिल्म ‘बागी 2’ में टाइगर कैप्टन रणवीर प्रताप सिंह उर्फ रॉनी के किरदार में हैं और दिशा पटानी नेहा नाम की एक लड़की की भूमिका निभा रही हैं. फिल्म में रॉनी और नेहा एक ही कॉलेज में साथ-साथ पढ़ाई करते हैं. इसी दौरान दोनों को एक दूसरे से प्यार हो जाता है. नेहा के पिता को इन दोनों की जोड़ी पसंद नहीं आती है. उसके बाद कुछ ऐसा होता है कि दोनों एक दूसरे से अलग हो जाते हैं और नेहा की शादी किसी और से हो जाती है. लेकिन 4 साल बाद नेहा की मुलाकात फिर से रॉनी से होती है. अब रॉनी आर्मी में एक कमांडो है और नेहा उससे अपनी किडनैप हुई बेटी के लिए मदद मांगती है. बस यही से फिल्म और भी ज्यादा रोचक होती चली जाती है.

यहां एक और किरदार सामने आता है, जो है नेहा का देवर सनी. प्रतीक बब्बर सनी की भूमिका निभाते नजर आते हैं. पहली कड़ी में रॉनी को सनी पर शक होता है. लेकिन नेहा के पति शेखर का रोल अदा कर रहे दर्शन कुमार रॉनी को बताते हैं कि उनकी कोई बेटी थी ही नहीं. ऐसे में फिल्म की कहानी उलझती चली जाती है. नई-नई बातें सामने आती है, लेकिन इन सबके बीच क्या रॉनी इस मिस्ट्री को सुलझाने में कामयाब हो पाता है या नहीं? इसके लिए आपको खुद सिनेमाघर जाकर पूरी फिल्म देखनी पड़ेगी.

ट्रेड एनालिस्‍ट तरण आदर्श के अनुसार फिल्‍म भारत में 3500 स्‍क्रीन्‍स और ओवरसीज में 625 स्‍क्रीन्‍स के साथ 45 देशों में रिलीज हुई है. फिल्‍म का बजट 75 करोड़ बताया जा रहा है.