क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया को बड़ा झटका, टॉप स्पॉन्सर ने खत्म किया समझौता

ऑस्ट्रेलिया के स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर को कई कंपनियों से स्पॉन्सरशिप मिल रही थी. बॉल टेंपरिग विवाद में फंसने के बाद अब शायद ही कोई प्रतिष्ठित कंपनी इन खिलाड़ियों के साथ अपने करार को आगे जारी रखे.

स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर पर एक साल का बैन लगने के बाद बोर्ड के टॉप स्पॉन्सर्स ‘मैगलन’ ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से समझौता तोड़ दिया है.

बॉल टेंपरिंग विवाद में ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर्स का नाम सामने आने के बाद ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट (सीए) को बड़ा झटका लगा है. साल 2017 में दोनों के बीच घरेलू टेस्ट मैचों के राइट्स को लेकर तीन साल के लिए करीब एक अरब रुपए का अनुबंध हुआ था.

इसकी जानकारी खुद मैगलन के चीफ एक्जीक्यूटिव और को-फाउंडर हामिश डगलस ने दी. उनका कहना है कि ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों की इस शर्मनाक हरकत से पूरी दुनिया में उनका भरोसा टूटा है. ऐसे में कंपनी इस टीम के साथ अपना करार आगे जारी नहीं रख सकती.

इससे सीए को बड़ा नुकसान तो हुआ ही है, साथ ही दोषी खिलाड़ियों के लिए भी यह कम नुकसान की बात नहीं है. स्मिथ और वॉर्नर को आईपीएल में खेलने के लिए 12-12 करोड़ रुपए मिलने वाले थे. इसके अलावा घरेलू क्रिकेट बोर्ड से भी इंटरनेशनल क्रिकेट खेलने के लिए उन्हें 20-20 करोड़ रुपये मिलने वाले थे. इस तरह दोनों को 32 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है.

इतना ही नहीं एक और कंपनी एएसआईसीएस ने भी डेविड वॉर्नर और कैमरून बैनक्रॉफ्ट के साथ अपने करार का अंत कर दिया है. कंपनी के एक सीनियर अधिकारी ने इसकी जानकारी ट्विटर पर दी.