केंद्र सरकार ने घटाई इंपोर्ट ड्यूटी, सस्ते होंगे एलईडी टीवी

बेसिक कस्टम ड्यूटी में कमी का सरकार का फैसला मेक इन इंडिया की दिशा में बढ़ाया गया कदम है, जिससे भारत में टीवी मैन्युफैक्चरिंग की नई कैपेसिटी डेवलप करने की दिशा में काम तेज होगा. इंडस्ट्री के एक अन्य एग्जीक्यूटिव ने कहा कि कंपनियां अब डिमांड बढ़ाने के लिए ओपन सेल पैनल पर 5 फीसदी टैक्स का बोझ खुद उठाने की कोशिश करेंगी, क्योंकि बीते साल अक्टूबर से सेल्स को रफ्तार नहीं मिल रही है.

अब एलईडी टीवी की कीमतों में कमी होने की संभावना है. मेक इन इंडिया को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने विदेश से इंपोर्ट होने वाले एलईडी टीवी के पैनल पर इंपोर्ट ड्यूटी में 5 फीसदी की कटौती कर दी है. इससे एलईडी टीवी बनाने वाली कंपनियों को काफी राहत मिली है.

केंद्र सरकार ने एलईडी टीवी के बहुत ही जरूरी पार्ट ओपन सेल को सस्ता किया है. जब केंद्र सरकार ने बजट में इस पर इंपोर्ट ड्यूटी 10 फीसदी की थी, तो कंपनियों ने टीवी की कीमतों में 5-6 फीसदी की बढ़ोतरी कर दी थी. अब इंपोर्ट ड्यूटी कम होने से एलईडी टीवी फिर से सस्ते हो जाएंगे.

ओपन सेल पैनल्स के मामले में कंपनियां देश में बनने वाले एलईडी टीवी में असेंबल करती हैं, जो एलईडी टीवी के लिए जरूरी पार्ट है. सैमसंग, एलजी और पैनासोनिक जैसी कंपनियां बीते दो महीने से इसी रूट का इस्तेमाल कर रही हैं और उन्होंने ओपन सेल असेंबलिंग यूनिट में खासा निवेश भी किया है. सरकार द्वारा फिनिस्ड टेलीविजन सेट्स और फिनिस्ड टेलीविजन पैनल पर कस्टम ड्यूटी बढ़ाकर क्रमशः 20 और 15 फीसदी किए जाने के बाद ऐसा किया गया था.