लालू यादव को इलाज के लिए AIIMS ले जाने की तैयारी!

चारा घोटाले के तीन मामलों में सजा पाने के बाद यहां बिरसा मुंडा जेल में बंद बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री एवं राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव को सोमवार (19 मार्च) को रांची की विशेष सीबीआई अदालत ने दुमका कोषागार से तीन करोड़, तेरह लाख रुपये का गबन करने के चौथे आरोप में भी दोषी करार दिया है.

सीने में तकलीफ के कारण आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव को रिम्स में भर्ती कराया गया था. जानकारी के अनुसार, लालू यादव का स्वास्थ्य कई दिनों से ठीक नहीं चल रहा था. जेल में तैनात डॉक्टर उनका उपचार कर रहे थे.

आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को बेहतर इलाज के लिए झारखंड से बाहर भेजने की तैयारी है. उन्हें एम्स में इलाज के लिए दिल्ली भी भेजा जा सकता है. रांची में रिम्स मेडिकल बोर्ड की बैठक में डॉक्टरों ने यह फैसला किया है कि उन्हें इलाज के लिए रांची से बाहर ले जाया जाए.

दरअसल लालू को हार्ट, डायबिटीज़ के साथ किडनी में भी थोड़ी समस्या है. लालू यादव चाहते थे कि सर्जरी होने की स्थिति में उन्हें दिल्ली स्थित एम्स जैसे किसी अस्पताल में ले जाया जाए. वहीं डॉक्टरों का कहना है कि लालू को फिलहाल किसी सर्जरी की जरूरत नहीं है.

लालू चारा घोटाले में दोषी करार दिए जाने के बाद से जेल में हैं. उन्हें 4 अलग-अलग मामलों में दोषी करार दिया जा चुका है. तबियत खराब होने के बाद इलाज के लिए पिछले कुछ दिनों से लालू रांची स्थित रिम्स में भर्ती हैं. जब तक उन्हें बाहर नहीं ले जाया जाता है तो रिम्स में उनका इलाज चलता रहेगा.

चारा घोटाला के कई मामलों में दोषी करार दिए जाने के बाद लालू यादव रो होटवार जेल भेजा गया था. जेल अधीक्षक को लालू को इलाज के लिए बाहर ले जाने के बारे में सूचना दे दी गई है.