नीतीश कुमार का BJP पर हमला, कहा- मैं समाज को बांटने वालों और भ्रष्टाचारियों को बर्दाश्त नहीं करूंगा

दरभंगा में एक व्यक्ति की हत्या हो गई. जिस व्यक्ति की हत्या हुई उसके घरवालों ने आरोप लगाया कि मृतक रामचन्द्र यादव ने गांव में मोदी चौक बनाया था. उपचुनाव से उत्साहित महागठबंधन के समर्थकों ने उसकी हत्या कर दी. ऐसा बयान हमले में घायल रामचन्द्र यादव के भाई भोला यादव ने दिया. लेकिन जब डीएसपी दिलनवाज अहमद ने मामले की जांच की तो यह मामला जमीनी विवाद का निकला.

शनिवार को गिरिराज सिंह उस गांव के दौरे पर थे. गांव बाबूभदवा में जब मंत्री पहुंचे तो कार्यकर्ता हर हर मोदी घर घर मोदी का नारा लगा रहे थे. रामचन्द्र यादव अमर रहें का नारा भी लगे. इसी बीच गिरिराज सिंह ने डीएसपी मुर्दाबाद का नारा लगाने के लिए कहा. वहीं दूसरी तरफ बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर एक वीडियो शेयर किया. इस वीडियो में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह दरभंगा में डीएसपी के खिलाफ नारेबाजी करने के लिए कार्यकर्ताओं को उकसा रहे हैं. यह वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बीजेपी सरकार से खुश नहीं नजर आ रहे हैं. पिछले साल लालू प्रसाद से अलग होने और कांग्रेस से भी किनारा करने के बाद नीतीश कुमार ने सोमवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि देश आगे तभी बढ़ सकता है जब देश में प्रेम, सहनशीलता और सद्भावना होगी. इसी के साथ नीतीश ने केंद्रीय मंत्री रामिवलास पासवान के बयान का समर्थन करते हुए कहा कि अगर उन्होंने कुछ कहा है तो बिना सोचे समझे नहीं कहा होगा.

बीजेपी पर हमला बोलते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि ध्यान रखें मैं न ही भ्रष्टाचार का साथ दूंगा न ही मैं उन लोगों को बर्दाश्त कर सकता हूं जो समाज को बांटने की राजनीति कर रहे हैं. मैं ये साफ कर देना चाहता हूं कि पूरी तरह से कम्यूनल और समाजिक शांति के साथ हूं. मैं मानता हूं कि देश आगे तभी बढ़ सकता है जब देश में प्रेम, सहनशीलता और सद्भावना बनी रहे.

इसी के साथ ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान की बात का समर्थन करते हुए कहा कि मैं कैसे कहूं कि बीजेपी को क्या करना चाहिए, मैं बीजेपी में तो हूं नहीं. हां, गठबंधन की सरकार जरूर चल रही है.

नीतीश कुमार ने आगे कहा कि रामविलास पासववान कुछ बोल रहे हैं तो बिना सोचे समझे तो बोलेंगे नहीं. इस विषय पर उनसे बात हो चुकी है और बिहार में सभी डॉक्यूमेंट्स पर काम हो रहा है, अल्पसंख्यक कल्याण के लिए काम किया जा रहा है.

उपचुनाव के परिणाम के रामविलास पासवान ने बीजेपी को नसीहत देते हुए कहा था कि बिहार और उत्तरप्रदेश के उपचुनाव के परिणामों को देखते हुए बीजेपी को समाजिक समीकरण पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है. उन्होंने कहा था कि अल्पसंख्यक विरोधी धारणा बदलनी होगी. उनकी पार्टी लोक जनशक्ति पार्टी सामाजिक न्याय और धर्मनिपेक्षता से समझौता नहीं कर सकती है.

इसी बीच खबरों की मानें तो दरभंगा में भाजपा कार्यकर्ता की हत्या और अररिया में आरजेडी की जीत के बाद भाजपा नेताओं की बयानबाजी के बाद भी जेडीयू ने अभी तक इस मामले पर चुप्पी साधी हुई है. दरभंगा में कथित नरेंद्र चौक के नाम पर भाजपा कार्यकर्ता की हत्या के बाद केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने पुलिस को भी कटघरे में खड़ा किया था. इस बीच भागलपुर में दो गुटों में हुई झड़प के बाद केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे के खिलाफ FIR दर्ज हुई है.