2 करोड़ नौकरियों का वादा किया था, 2 लाख भी नहीं दे पाए : मनमोहन सिंह

कांग्रेस महाअधिवेशन के दूसरे दिन जहां सोनिया गांधी और राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर जमकर हमला किया. राहुल गांधी ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि वो बांटने की नीति अपनाते हैं और हम भाईचारा का रास्ता अख्तियार करते हैं. सोनिया गांधी ने कहा कि हमारा अस्तित्व मिटाने की बहुत कोशिश की गई. लेकिन कांग्रेस न कभी झुकी है और न कभी झुकेगी.

वही पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाने पर लिया. उन्होंने कहा- 2 करोड़ नौकरियों का वादा, 2 लाख भी नहीं दे पाए.

दिल्ली में शुक्रवार को शुरू हुए कांग्रेस महाअधिवेशन का आज आखिरी दिन है. जहां कई अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों पर पार्टी प्रस्ताव पास करेगी. अधिवेशन के आखिरी दिन मनमोहन सिंह ने भी PM मोदी को निशाने पर लिया. उन्होंने कहा कि जब मोदी चुनाव प्रचार कर रहे थे तो उन्होंने बड़े-बड़े वादे किए थे लेकिन वो वादे आज तक पूरे नहीं हुए. रोजगार पर चर्चा करते हुए सिंह ने कहा कि उन्होंने (नरेंद्र मोदी) वादा किया था कि 2 करोड़ नौकरियां उपलब्ध कराएंगे, अब तक 2 लाख नौकरियां भी देखने को नहीं मिला.

उन्होंने कहा कि मोदी राज में देश की सीमाएं भी सुरक्षित नहीं रही. मनमोहन सिंह ने कहा कि मोदी सरकार जम्मू कश्मीर मामले को सुलझाने में पूरी तरीके से विफल रही. घाटी में हर दिन के साथ तनाव बढ़ता जा रहा है. इस सरकार में देश की सीमाएं भी सुरक्षित नहीं रही.

महाअधिवेशन के आखिरी दिन की शुरुआत आनंद शर्मा के संबोधन से हुई. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने विदेश नीतियों को बाधित करके रख दिया है. पिछले चार सालों में मौजूदा सरकार ने गैर-जिम्मेदार तरीके से काम किया. पिछले चार सालों में विभाजनकारी नीति अपनाई गईं जिसका खामियाजा देश को भुगतना पड़ रहा है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी अपना ही प्रोपेगंडा लेकर चलते हैं. उनके कार्यकाल में पाकिस्तान द्वारा सीजफायर का उल्लंघन बढ़ा है,

उन्होंने विदेश नीति पर सवाल उठाते हुए कहा कि विदेश में पूर्व प्रधानमंत्रियों का अपमान किया गया. हमारे निकटतम पड़ोसियों से लेकर देश की बड़ी-बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के साथ संबंध खराब हुए हैं.