चौराहे का नाम ‘मोदी चौक’ रखा तो काट दी गर्दन, कई लोग हिरासत में

बीजेपी नेता का आरोप है कि रात में बाइक सवार 50-60 लोगों ने उसके पिता की गर्दन काट कर हत्या कर दी. इस भीड़ ने उसके भाई को भी मारने की कोशिश की. उधर, पुलिस ने बताया कि इस मामले में कई लोगों को गिरफ्तार किया गया है और घायल युवक को अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

बिहार के दरभंगा में बीजेपी नेता के पिता की गर्दन काटने का मामला सामने आया है. आरोप है कि बीजेपी नेता ने एक चौराहे का नामकरण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर करते हुए ‘मोदी चौक’ रख दिया था. इस मुद्दे पर खूब विवाद भी हुआ.

जानकारी के अनुसार, दरभंगा में एक स्थानीय बीजेपी नेता के परिवार ने अपने इलाके में एक चौक का नाम मोदी चौक रख दिया. इस पर अन्य दलों के लोगों ने ऐतराज जताया. बताया जा रहा है कि रामचंद्र नामक युवक बीजेपी का स्थानीय नेता है. उसी ने पहल करते हुए अपने इलाके का नाम मोदी चौक रख दिया और वहां प्रधानमंत्री की एक तस्वीर भी लगा दी.

रामचंद्र का आरोप है कि दूसरे दल के करीब 40-50 लोग 25-30 बाइकों पर सवार होकर आए. उनके हाथों में हॉकी और तलवार थीं. रामचंद्र ने बताया कि जब उसके पिता उन लोगों को समझाने गए तो लोगों ने उनकी गर्दन काट दी. इन लोगों ने उसके भाई को भी मारने की कोशिश की.

घायल युवक ने बताया कि राजद के गढ़ में उन्होंने चौराहे का नाम मोदी चौक रखा था, तभी से एक पार्टी विशेष के लोग उनका विरोध कर रहे हैं. घायल युवक ने बताया कि छह महीने पहले उन्होंने इस चौक का नामकरण किया था. उसके 13 दिन बाद उसके एक भाई की गर्दन काट कर हत्या कर दी थी. और अब करीब छह महीने बाद उसके पिता को भी मार दिया और एक अन्य भाई को घायल कर दिया.

दरभंगा का डीएसपी दिलनावज अहमद ने बताया कि घटना की जानकारी पर पुलिस तुरंत घटना स्थल पर पहुंची और घायल युवक को अस्पताल में भर्ती कराया. स्थानीय लोगों का बयान लेने के बाद पुलिस ने कई आरोपियों को हिरासत में लिया है. दरभंगा सदर के थाना प्रभारी रविशंकर ने बताया कि घायल अवस्था में कमलेश को दरभंगा मेडिकल कॉलेज अस्पताल (डीएमसीएच) में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी स्थिति खतरे से बाहर बताई जा रही है.

इस घटना से नाराज लोगों ने आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर दरभंगा के कर्पूरी चौक पर प्रदर्शन किया. घटना के बाद से क्षेत्र में तनाव बना हुआ है.