निदास ट्रॉफी : श्रीलंका को हराकर बांग्लादेश फाइनल में, फाइनल रविवार को टीम इंडिया से

निदास ट्रॉफी : श्रीलंका को हराकर बांग्लादेश फाइनल में, रविवार को टीम से होगा फाइनलबेहद रोमांचक और तनावपूर्ण मुकाबले में तमीम इकबाल (50) के बाद महमुदुल्लाह द्वारा 18 गेंदों में तीन चौके और दो छक्कों की मदद से खेली गई 43 रनों की पारी के दम निदास ट्रॉफी के त्रिकोणीय टी-20 सीरीज के आखिरी नॉकआउट मुकाबले में मेजबान श्रीलंका को दो विकेट से मात देते हुए फाइनल में प्रवेश कर लिया है.

फाइनल में बांग्लादेश का सामना इसी आर.प्रेमदासा स्टेडियम में रविवार को भारत से होगा.

बांग्लादेश ने इस मैच में शानदार प्रदर्शन किया और पहले बल्लेबाजी करने उतरी श्रीलंका को 20 ओवरों में सात विकेट के नुकसान पर 159 पर सीमित कर दिया और फिर आखिरी ओवर के रोमांच को पार करते हुए इस लक्ष्य को एक गेंद शेष रहते हुए हासिल कर लिया.

आखिरी ओवर में बांग्लादेश को 12 रनों की दरकार थी. इसुरु उदाना ने आखिरी ओवर की पहली गेंद मुस्ताफीजुर रहमान को फेंकी लेकिन इस बाउंसर को रहमान खाली खेल गए. श्रीलंका ने रिव्यू लिया जो जाया चला गया. अगली गेंद भी बाउंसर थी और इस पर रन लेने के प्रयास में रहमान आउट हो गए. चार गेंद में 12 रन चाहिए थे.

इसी बीच बांग्लादेश के खिलाड़ियों का श्रीलंकाई खिलाड़ियों से विवाद हो गया और शाकिब अंपायर से जिरह करने लगे और इसी दौरान उन्होंने अपनी टीम को वापस बुला लिया.हालांकि कोच खालिद मेहमुद ने बल्लेबाजों को वापस भेजा और अगली ही गेंद पर महमुदुल्लाह ने चौका मार दिया.इसके बाद दो रन लिए. बांग्लादेश को जीतने के लिए दो गेंदों में छह रन चाहिए थे. पांचवीं गेंद पर महामुदुल्लहा ने छक्का मार अपनी टीम को जीत दिलाई.

आसान से लक्ष्य का पीछा करने उतरी बांग्लादेश को अच्छी शुरुआत नहीं मिली थी. उसने 11 के स्कोर पर ही अपना पहला विकेट लिटन दास के रूप में खो दिया था. सब्बीर रहमान (13) 33 के कुल स्कोर पर आउट हुए.

मुश्फीकुर रहीम (28) और इकबाल ने टीम को संभाला और मैच में बनाए रखा. रहीम 97 के कुल स्कोर पर आउट हुए. इसके बाद तमीम और सौम्य सरकार के विकेट गिर जाने से बांग्लादेश का स्कोर पांच विकेट के नुकसान पर 109 रन हो गया था. तमीम ने 42 गेंदों में चार चौके और दो छक्के लगाए.

यहां से महमुदुल्लाह ने कमान संभाली और टीम को फाइनल में पहुंचाया.

इससे पहले, बांग्लादेशी गेंदबाजो ने अपने कप्तान शाकिब के टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी के फैसले को सही साबित किया. श्रीलंका ने 41 रनों पर ही अपने पांच विकेट खो दिए थे.

यहां से कुशल परेरा (61) और तिसारा परेरा (58) के बीच छठे विकेट के लिए हुई 97 रनों की साझेदारी ने श्रीलंका को संकट से उबारा और 100 के पार पहुंचाया. कुशल 138 के कुल स्कोर पर सौम्य सरकार का शिकार बने. 154 के कुल स्कोर पर आखिरी ओवर में तिषारा आउट हुए.