राज्य में बदल सकता है मौसम का मिजाज

मौसम उत्तराखंड में करवट बदल सकता है, मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार उत्तरकाशी, चमोली और पिथौरागढ़ में बारिश के आसार हैं. प्रदेश में दिनभर धूप खिली रही. बीते एक सप्ताह से प्रदेश में मौसम शुष्क बना हुआ है.

बारिश न होने से रबी की फसल और बागवानी पर असर पडने की आशंका है. राज्य बनने के बाद यह पांचवां मौका है, जब अक्टूबर से दिसंबर तक बारिश बेहद कम रही है. इससे पहले वर्ष 2000, 2007, 2011, 2016 और 2017 में बारिश 75 से 96 फीसद तक कम रही थी.

मौसम केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह के अनुसार उत्तराखंड में एक जनवरी से 28 फरवरी तक शीतकाल माना जाता है. इस अवधि में प्रदेश में बारिश हुई ही नहीं है. मौसम विभाग के अनुसार इस बार सर्दियों में सूबे में एक अक्टूबर से 31 दिसंबर तक 85.6 मिमी बारिश होती थी, जबकि इस साल 76 फीसद की कमी रही.

प्रदेश के ज्यादातर शहरों में तापमान में इजाफा हुआ है. मसूरी और नैनीताल जैसे शहरों में अधिकतम तापमान 16 से 17, जबकि न्यूनतम चार से सात डिग्री सेल्सियस के बीच चल रहा है.