उत्तराखंड के सात शहरों में होगा स्वच्छ सर्वेक्षण

सांकेतिक फोटो

उत्तराखंड में गुरुवार को सात शहरों से स्वच्छ सर्वेक्षण-2018 की शुरुआत की जा रही है.सर्वेक्षण के लिए केंद्र सरकार के द्वारा अधिकृत कार्वी कंपनी के आकलनकर्ता (एसेसर) पहली सूची के चयनित शहरों तक पहुंचेंगे और संबंधित नगरपालिका निकाय से साफ-सफाई प्रणाली के दस्तावेजों को प्राप्त कर धरातलीय स्थिति से दस्तावेजों की वास्तविकता का आकलन करेंगे.

यदि दस्तावेज में धरातल से इतर जानकारी मिली तो नकारात्मक आंकन भी किया जाएगा.यानी दस्तावेज में दी हुई जानकारी कि पुष्टि धरातल से होनी चाहिए.

कुल 4000 अंकों के इस सर्वेक्षण का पहला चरण 1400 अंकों का होगा.इसके तहत निकायों के पांच क्षेत्रों में किए गए कार्यों को शामिल किया जाएगा. दूसरे चरण में, कार्वी कंपनी की टीम 1200 अंकों के लिए शहर का निरीक्षण करने में सक्षम हो जाएगी.

दूसरी ओर, शहरी विकास निदेशक विनोद कुमार सुमन ने कहा कि केदारनाथ, बदरीनाथ गंगोत्री धाम में कपाट बंद होने और अल्मोड़ा के भतरौजखान में हाईकोर्ट का स्टे होने कि वजह से यहाँ सर्वेक्षण अभी संभव नहीं हो पाएगा.