उरी सैन्य शिविर में आतंकियों की मौजूदगी का फिलहाल संकेत नहीं

जम्मू एवं कश्मीर के उरी में एक सैन्य शिविर के करीब संदिग्ध गतिविधि नजर आने पर शिविर में तैनात एक संतरी ने फायरिंग की. पुलिस ने यह कहा. पुलिस ने साथ ही आतंकी हमले की मीडिया रिपोर्ट्स को खारिज करते हुए कहा कि अभी तक इस फायरिंग के जवाब में कोई जवाबी फायरिंग नहीं हुई है.

बारामूला के पुलिस अधीक्षक सैयद इम्तियाज हुसैन ने कहा कि उरी में रजारवानी शिविर में एक संतरी ने संदेह के आधार पर फायरिंग की थी. किसी आतंकवादी की ओर से कोई जवाबी फायरिंग नहीं की गई है.

हुसैन ने कहा, “यह पता लगाने के लिए कि इलाके में कोई आतंकवादी मौजूद है या नहीं, इलाके को घेर लिया गया है और तलाशी ली जा रही है.”

इससे पहले एक पुलिस प्रवक्ता ने भी कहा, “विपरीत पक्ष की ओर से कोई हमला नहीं किया गया है और न ही कोई गोलीबारी की गई है. एक संतरी ने बस संदिग्ध गतिविधियां नजर आने पर फायरिंग की थी. फिलहाल किसी आंतकवादी की मौजूदगी की कोई सूचना नहीं है.”

रात के समय रजारवानी उरी में सेना की आर्टिलरी यूनिट के एक संतरी ने शिविर के आसपास संदिग्ध गतिविधि देखी, जिसके बाद उसने गोली चला दी. एक तलाशी अभियान के दौरान नजदीकी नाले के पास दो लोगों को देखा गया था.

सेना और पुलिसकर्मी घटनाक्रम की जांच कर रहे हैं.