उत्तराखंड में शीतलहर का प्रकोप जारी, गढ़वाल-कुमायूं में कुछ इलाकों बर्फबारी जारी

मंगलवार उत्तराखंड में को भी शीतलहर का प्रकोप जारी रहा. राज्य के कुछ इलाकों में बर्फबारी और बारिश हुई. मौसम विभाग के अधिकारियों ने बताया कि अगले कुछ दिनों तक मौसम ऐसा ही बना रहेगा, जिसके चलते केदारनाथ मंदिर में चल रहे रिस्टोरेशन के काम को रोक दिया गया है. साल 2013 में यहां आई बाढ़ से यह तबाह हो गया था.

इस क्षेत्र में चार फीट से अधिक बर्फबारी हुई और पारा शून्य से नीचे चला गया. तुंगनाथ, चोपता, दुगालबिट्टा, हरियाली डांडा और मध्यमेश्वर में पिछले कुछ दिनों से भारी बर्फबारी हो रही है.

चमोली, यमुनोत्री, कुमायूं के धानचूली और पहाड़पानी इलाकों में भी रुक-रुक कर बर्फबारी हो रही है. नैनीताल के हिल स्टेशन पर रविवार को मौसम की पहली बर्फबारी हुई, जो छुट्टियों में आने वाले पर्यटकों को खुश करती है.

जोशीमठ में डमुक, उर्गम, कलगोथ और तपोवन में पिछले 48 घंटों से भारी हिमपात हो रहा है, जिससे शीतलहर तेज हो रही है. बद्रीनाथ, रुद्रनाथ, हेमकुंड साहेब, नंदा घुंघटी, औली, निजमुला घाटी, गोर्सन में भी बर्फबारी हुई है. राज्य सरकार ने जिला अधिकारियों को सतर्क कर दिया है और जानमाल के नुकसान से बचने के लिए सतर्कता बरतने को कहा है.