मिशन उड़ान योजना के तहत देहरादून से पन्तनगर हवाई सेवा का हुआ शुभारम्भ

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत, विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचन्द अग्रवाल व कैबिनेट मंत्री प्रकाश पंत ने शुक्रवार को उड़ान योजना के तहत जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर देहरादून से पंतनगर हवाई सेवा का फ्लैग-ऑफ कर शुभारम्भ किया. मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि उड़ान योजना से स्थानीय लोगों के साथ ही पर्यटकों को सुविधा के साथ उनके समय की भी बचत होगी. यह सेवा गढवाल व कुमांऊ के बीच कनेक्टीवीटी के लिए महत्वपूर्ण साबित होगी.

मुख्यमंत्री ने कहा कि जौलीग्रान्ट एअर पोर्ट सहित पंत नगर, चिन्यालीसौड, नैनीसैनी व गौचर व चैखुटिया में भी हवाई पटटी तैयार कर उनका विस्तार किया जायेगा. सामरिक दृष्टि से सीमांत राज्य होने के नाते राज्य में हवाई पट्टियों के विस्तार पर ध्यान दिया जा रहा है. मुख्यमंत्री ने इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार व्यक्त किया.
इससे पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया तथा एयर इंडया के सीएमडी प्रदीप खरोला सहित अन्य अधिकारियों से विचार-विमर्श किया. मुख्यमंत्री ने इस सेवा का उपयोग करने वाले यात्रियों को हवाई यात्रा के टिकट सौंपते हुए उन्हें शुभकामनाएं भी दी.

एअर इंडिया के सीएमडी प्रदीप खरोला ने बताया कि एअर इंडिया के पूर्ण स्वामित्व की सहायक कम्पनी एलाइंस एअर द्वारा भारत सरकार के मिशन ’’कनेक्टिंग इंडिया’’ मिशन में उड़ान योजना के तहत क्षेत्रीय सम्पर्क में उन्नयन के लिए देहरादून से पंतनगर एवं वापसी की उड़ान प्रारम्भ की जा रही है. इस उड़ान के प्रारम्भ होने से यात्रियों की सुलभ सम्पर्क उपलब्ध करवाए जाने की लम्बे समय से चली आ रही मांग को पूरा किया गया है. एलाइंस एअर द्वारा पंतनगर-देहरादून-पंतनगर मार्ग पर एटीआर 42 विमान से प्रचालन प्रारम्भ किया गया है.

एटीआर विमान की सीट क्षमता 42 है. उड़ान संख्या 91-823 बुधवार, शुक्रवार, शनिवार व रविवार को पंतनगर से 13.40 बजे प्रस्थान, करेगी व देहरादून 14.40 बजे पहुंचेगी. वापसी उड़ान 91-824, बुधवार, शनिवार व रविवार को देहरादून से 15.05 बजे प्रस्थान करेगी व पंतनगर 15.55 बजे पहुंचेगी देहरादून/पंतनगर सैक्टर के लिए किराया 1590 रु. हैं (सभी सम्मिलित). एलाइंस एअर की पंतनगर से नई दिल्ली के लिए एक सीधी उड़ान भी है. इस उड़ान से इन शहरों के बीच यात्रा करने वाले यात्रियों को अत्यंत सुविधा के साथ-साथ यात्रा में लगने वाले समय में महत्वपूर्ण कमी आयेगी. इस अवसर पर सचिव दिलीप जावलकर, अपर सचिव आर.राजेश कुमार, निदेशक जौलीग्रान्ट एयर पोर्ट विनोद शर्मा आदि उपस्थित थे.