मप्र विधानसभा से पहले भाजपा को लगा बड़ा झटका, सीएम चौहान के साले ने थामा कांग्रेस का दामन

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साले संजय सिंह मसानी ने शनिवार को राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस का दामन थाम लिया. संजय ने शुक्रवार को कांग्रेस के दिल्ली स्थित कार्यालय में पहुंचकर विधिवत रूप से पार्टी की सदस्यता ली.

उन्होंने प्रदेशाध्यक्ष कमलनाथ, प्रचार अभियान समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया, प्रदेश प्रभारी दीपक बावरिया की मौजूदगी में कांग्रेस में शामिल होने की घोषणा की. शिवराज के साले संजय ने इस मौके पर भाजपा पर खुलकर आरोप लगाए.

उन्होंने कहा, “भाजपा में कामदार नहीं बल्कि नामदार को महत्व मिल रहा है, राज्य में बदलाव जरूरी हो गया है.”

मसानी ने कहा, “भाजपा में अब वंशवाद और भाई भतीजावाद का बोलबाला है. भाजपा की ओर से अधिकतर उम्मीदवार सांसद और विधायक के पुत्र या पुत्री हैं. जो पार्टी के लिए काम कर रहा है, उसे वंशवाद की राजनीतिक के लिए दरकिनार किया जा रहा है.”

उन्होंने कहा, “बेरोजगारी का बढ़ना और उद्योगों का अभाव राज्य में दो बड़ी समस्या है और चौहान सरकार ने इन सालों में कुछ नहीं किया है.”