यूपी : बुलंदशहर से पाकिस्तानी जासूस गिरफ्तार

बुलंदशहर की स्वाट टीम व कोतवाली देहात पुलिस ने पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के एजेंट जाहिद को शुक्रवार देर रात गिरफ्तार किया. कोतवाली देहात क्षेत्र के भूड़ चौराहे के पास से गिरफ्तार आरोपी आईएसआई एजेंट के रूप मे कार्य कर रहा था. उसके पास गोपनीय दस्तावेज, प्रतिबंधित दस्तावेज व प्रतिबंधित क्षेत्र के नक्शे, एक मोबाइल, वोटर आईडी कार्ड, आधार कार्ड व 2540 रुपये बरामद हुए है. पकड़े गए आरोपी से खुफिया एजेंसी पूछताछ कर रही है.

शनिवार को कोतवाली देहात में आयोजित प्रेसवार्ता में अपर पुलिस अधीक्षक (नगर) डॉ. प्रवीण कुमार रंजन ने बताया कि खुफिया विभाग से सूचना मिली कि खुर्जा नगर निवासी एक शख्स पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के एजेंट के रूप में काम कर रहा है. इस सूचना पर स्वाट टीम प्रभारी विवेक शर्मा व कोतवाली देहात इंस्पेक्टर तपेश्वर सागर की टीम एक्टिव हो गई.

उन्होंने बताया कि शुक्रवार देर रात मुखबिर की सूचना पर कोतवाली देहात क्षेत्र के भूड़ चौराहे के पास से आरोपी जाहिद पुत्र अलीम निवासी मोहल्ला तरीनान निवासी खुर्जा को गिरफ्तार किया गया. उसके कब्जे से गोपनीय एवं प्रतिबंधित दस्तावेज और प्रतिबंधित क्षेत्र के नक्शे, एक मोबाइल, वोटर आईडी कार्ड, आधार कार्ड व 2540 रुपये बरामद हुए.

एसपी सिटी ने बताया आरोपी जाहिद भारतीय सैन्य गतिविधियों व प्रतिबंधित गोपनीय दस्तावेज एवं सैन्य ठिकानों के नक्शे व महत्वपूर्ण जानकारियों की सूचना इकट्ठी कर विभिन्न माध्यमों से पाकिस्तान भेज रहा था. उन्होंने बताया कि पूछताछ में पता चला कि आरोपी दो बार 2012 व 14 में पाकिस्तान जा चुका है. उसी दौरान वह आईएसआई के संपर्क में आया. पाक एजेंसी ने ही उसे भारत के महत्वपूर्ण ठिकानों एवं गोपनीय दस्तावेजों की जानकारी उपलब्ध कराने का काम सौंपा था. वह वाट्सएप के माध्यम से पाकिस्तान को जानकारी भेजता रहा.

एसपी सिटी ने बताया कि जाहिद से पूछताछ में उसके दो साथियों के भी देश विरोधी गतिविधियों में शामिल होने की जानकारी मिली है. इनकी गोपनीय रूप से जांच की जा रही है. जाहिद के खिलाफ कोतवाली देहात में शासकीय गुप्त अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है.

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, आरोपी के मोबाइल में पाकिस्तान के 19 नंबर सेव मिले है. पुलिस और खुफिया जांच एजेंसी पता लगा रही है कि इनमें आइएसआइ सदस्यों के कितने नंबर हैं. यही नहीं उसके मोबाइल में मेरठ कैंट, गाजियाबाद हिंडन एयरबेस की कुछ तस्वीरें भी मिली हैं.

पुलिस सूत्रों का कहना है कि आरोपी के पास से मिले मोबाइल में मेरठ के रहने वाले कई युवकों के नंबर भी मिले हैं, जो जांच के घेरे में है.