बिहार : सीट बंटवारे को लेकर राजग में हलचल तेज

बिहार में लोकसभा की 40 सीटों के बंटवारे को लेकर राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में राजनीतिक हलचल अचानक तेज हो गई है. इस बीच राजग में शामिल राष्ट्रीय लोकसमता पार्टी (रालोसपा) के प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने शनिवार को दोहराया कि उनकी पार्टी राजग में है. उन्होंने स्पष्ट किया है भाजपा और जद (यू) ने बराबर सीटों पर लड़ने की घोषणा की है, यह अंतिम सीट बंटवारा नहीं है.

रालोसपा के प्रवक्ता जितेंद्र नाथ ने शनिवार को मीडिया से कहा कि सीट बंटवारे को लेकर एक दौर की चर्चा हो चुकी है. जल्द ही अगले दौर की बात दिल्ली में होनी है.

रालोसपा के एक नेता का दावा है कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कुशवाहा को फोनकर सीट बंटवारे पर चर्चा करने के लिए दिल्ली बुलाया है.

उल्लेखनीय है कि शुक्रवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और जद (यू) के अध्यक्ष नीतीश कुमार की बराबर सीटों पर लड़ने की घोषणा के बाद बिहार के अरवल में कुशवाहा और तेजस्वी यादव के बीच मुलाकात हुई थी.

तेजस्वी ने मुलाकात के बाद कहा था कि उन्होंने कई मौके पर कुशवाहा को महागठबंधन में आने का न्योता दिया है. इस मुलाकात में भी उन्हें महागठबंधन में शामिल होने का आमंत्रण दिया है. कुशवाहा ने हालांकि इस मुलाकत को महज संयोग बताया.

कुशवाहा ने शनिवार को कहा, “तेजस्वी से मिलना मात्र एक संयोग था. राजनीतिक की कोई बात नहीं हुई है. मुलाकात के दौरान दोनों पार्टियों के नेता साथ थे. राजग में सीटों को लेकर अभी कोई अंतिम फैसला नहीं हुआ है.”

बिहार में लोकसभा की कुल 40 सीटें हैं. 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में राजग में शामिल भाजपा ने 22 सीटों पर जीत दर्ज की थी, जबकि लोक जनशक्ति पार्टी छह और रालोसपा तीन सीटों पर विजय हुई थी. वर्तमान समय में राजग में जद (यू) भी शामिल हो गई है, जिसने पिछले लोकसभा चुनाव में मात्र दो सीटें जीती थी.