ओडिशा में चक्रवाती तूफान से मरने वालों की संख्या 26 हुई

ओडिशा सरकार ने राज्य में आए विनाशकारी चक्रवाती तूफान तितली और उसके साथ आई बाढ़ से मरने वालों की संख्या मंगलवार को बढ़कर 26 पहुंच जाने की पुष्टि की. इन आपदाओं से 57 लाख लोग प्रभावित हुए हैं. विशेष राहत आयुक्त (एसआरसी) बिष्णुपदा सेठी ने कहा, “अकेले गजपति जिले में 18 लोगों के मरने की खबर है. इनमें से 15 की मौत बाराघरा गांव में भूस्खलन से हुई.”

एसआरसी ने कहा, “गंजम में तीन जबकि अंगुल, कटक, क्योनझर, नयागढ़ और कंधमाल जिले में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई.”

सेठी ने कहा, “जिला कलेक्टरों से प्रत्येक मृतक के परिजनों को चार लाख रुपये बतौर मुआवजा देने को कहा गया है.”

उन्होंने कहा कि गंजम, गजपति, रायगढ़ और कंधमाल के 35 ब्लॉकों में करीब 900 किलोमीटर सड़क गंभीर रूप से क्षतिग्रस्त हुई है जबकि इन जिलों में 1.48 लाख हेक्टेयर धान की फसल तबाह हो गई है.

संबंधित विभागों को बुधवार तक नुकसान के आंकलन की प्राथमिक रिपोर्ट दाखिल करने को कहा गया है.

मंगलवार को 73 वर्ष के हुए मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने बड़े पैमाने पर नुकसान और चक्रवात से जूझ रहे लोगों के प्रति संवेदना के कारण अपना जन्मदिन नहीं मनाने का फैसला किया है. चक्रवात 11 अक्टूबर को राज्य में पहुंचा था.