कांग्रेस ने चुनाव आयोग की स्वतंत्रता को लेकर सवाल उठाए

शनिवार को कांग्रेस ने पांच राज्यों में होने वाले चुनाव की घोषणा करने के लिए होने वाले संवाददाता सम्मेलन के समय में बदलाव को लेकर चुनाव आयोग की स्वतंत्रता पर सवाल उठाए हैं. पार्टी ने कहा कि यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सहायता पहुंचाने के लिए किया गया है, जो राजस्थान के अजमेर में एक चुनाव रैली को संबोधित करने वाले थे. राजस्थान में विधानसभा चुनाव होने हैं.

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा, “तीन तथ्य से खुद ही निष्कर्ष निकालिए. चुनाव आयोग ने पांच राज्यों में होने वाले चुनाव की घोषणा के लिए समय शनिवार को अपराह्न् 12.30 बजे रखा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राजस्थान के अजमेर में एक रैली अपराह्न् 1 बजे संबोधित करने वाले थे. चुनाव आयोग ने अचानक अपने संवाददाता सम्मेलन के समय में बदलाव करके इसे 3 बजे अपराह्न् कर दिया. चुनाव आयोग स्वतंत्र है?”

समय बदलाव को लेकर आलोचनाओं पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए, चुनाव आयोग ने एक बयान में कहा, “मुख्य चिंता यह रही कि सभी मीडियाकर्मियों को संवाददाता सम्मेलन की सुबह जब जानकारी मिली, उसके बाद उनके पास इसमें पहुंचने के लिए काफी कम समय था. साथ ही उनके लॉजिस्टिक्स का इंतजाम करने के लिए भी समय कम था.”

इससे पहले दिन में आयोग ने सुबह 9.50 बजे के आसपास अपराह्न् 12.30 बजे संवाददाता सम्मेलन के संबंध में मीडियाकर्मियो को जानकारी दी.

करीब एक घंटे के बाद पत्रकारों को संवाददाता सम्मेलन का समय बदलकर अपराह्न् 3 बजे करने का दोबारा संदेश मिला. चुनाव आयोग मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम में चुनावों की तिथियों की घोषणा करने वाला है.