देश में एक भी घुसपैठिया नहीं रह पाएगा : अमित शाह

शनिवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने इंदौर में कहा कि भाजपा के लिए देश सवरेपरि है, इसलिए दुश्मन देश की कोई हरकत बर्दाश्त नहीं की जा रही है. उन्होंने कहा कि इस देश में एक भी घुसपैठियों को नहीं रहने दिया जाएगा. शाह ने यहां दशहरा मैदान में कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कांग्रेस सहित अन्य राजनीतिक दलों पर आरोप लगाया कि “वे राजनीतिक लाभ के लिए घुसपैठियों का समर्थन करते हैं, मगर भाजपा के लिए देश से बढ़कर कुछ नहीं है, इसलिए देश के विभिन्न राज्यों में बसे घुसपैठियों को निकाला जाएगा. आने वाले समय में यहां एक भी घुसपैठिया नहीं रह पाएगा.”

शाह ने कांग्रेस शासन काल की नीतियों की आलोचना करते हुए कहा कि बीते चार साल में मोदी सरकार ने समाज के हर वर्ग को सुविधाएं देने का काम किया है, योजनाएं बनाई हैं, मध्य प्रदेश सहित देश के अन्य हिस्सों के लोगों को इन योजनाओं का लाभ मिला है, और किसानों के हित में फैसले लिए गए हैं.

मोदी सरकार पर कांग्रेस के हमलों पर पलटवार करते हुए शाह ने कहा कि जो लोग मोदी सरकार से चार साल का हिसाब मांग रहे हैं, उन्हें चार पीढ़ियों का हिसाब देना चाहिए.

इससे पहले विशेष विमान से इंदौर पहुंचे शाह की भाजपा नेताओं ने अगवानी की. शाह ने देवी अहिल्या बाई की प्रतिमा पर माल्यार्पण के बाद राजवाड़ा क्षेत्र स्थित महालक्ष्मी मंदिर में पूूजा की.

शाह इंदौर से विमान से झाबुआ जाएंगे, जहां वह जनजातीय सम्मेलन को संबोधित करेंगे, जावरा में किसान सम्मेलन, उज्जैन में कार्यकर्ताओं को संबोधित करने के बाद इंदौर से दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगे.

इस बीच, एससी/एसटी अधिनियम के विरोध में सड़कों पर उतरे लोगों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया. प्रदर्शनकारियों में करणी सेना और सवर्ण समाज के लोग शामिल थे. ये लोग सर्वोच्च न्यायालय के आदेश को संसद में बदले जाने का विरोध कर रहे थे. प्रदेश के अन्य हिस्सों में सभी राजनीतिक दलों के नेताओं के खिलाफ प्रदर्शन का दौर जारी है.