पेट्रोल-डीजल की कीमतें कम करना चुनावी चाल : आप सांसद

आम आदमी पार्टी (आप) ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा पेट्रोल-डीजल की कीमतों में 2.50 रुपये कम किए जाने को भाजपा की चुनावी चाल बताया है. आप के उत्तर प्रदेश प्रभारी व राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने यहां शुक्रवार को कहा कि तीन राज्यों के चुनाव की तरीखें दो-तीन दिन में घोषित होने वाली हैं। उसके ठीक पहले केंद्र सरकार का पेट्रोल-डीजल की कीमतें थोड़ा कम करना दिखावा मात्र है.

उन्होंने कहा कि इसी तरह गुजरात, कर्नाटक के चुनाव से पहले भी मोदी सरकार ने तेल की कीमत कम कर दी थी, लेकिन चुनाव खत्म होने के बाद तुरंत तेल की कीमतें बढ़ा दी गईं. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने पिछले साढ़े चार साल के कार्यकाल में डीजल पर 443 प्रतिशत और पेट्रोल पर 213 प्रतिशत टैक्स बढ़ाकर जनता की मेहनत की कमाई लूट रही है.

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार 29 देशों को मात्र 37 रुपये में डीजल बेच रही है और देश के किसानों व अन्य लोगों को 75 रुपये में डीजल दे रही है. यह देश के लिए दुर्भाग्य है.

आप सांसद ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार कुछ पूंजीपतियों की सरकार है, उनके खजाने भरने के लिए ही पेट्रोल-डीजल की कीमतें बेतहाशा बढ़ाती चली गई. अब चुनाव सामने देख 2.50 रुपये कम कर मतदाताओं को बहलाने चली है.