घायल तेंदुए की मदद कर रहा था ग्रामीण, अगले पल हुआ कुछ ऐसा….

बागेश्वर जिले के कपकोट ब्लॉक के चौरा गांव  के ग्रामीणों को बुधवार की सुबह पुंगर नदी के किनारे घायल तेंदुआ दिखा. ग्रामीणों ने तेंदुए को शोर मचाकर भगाने की कोशिश की तो वह भाग नहीं सका. ग्रामीण समझ गए कि तेंदुआ घायल है. ग्रामीणों ने इस बात की सूचना वन विभाग को दी.

तेंदुए की कमर तथा पिछले पैर में जख्म था इस बीच चौंरा गांव के ग्रामीण जगदीश सिंह धपोला ने रस्सी से तेंदुए को बांधने का प्रयास किया तो तेंदुए ने जगदीश पर हमला कर उसे बुरी तरह घायल कर दिया. तेंदुए ने पहले उनका हाथ और फिर उनका पैर अपने जबड़े में दबा लिया. साथ के लोगों ने बमुश्किल उन्हें तेंदुए से बचाया.

घायल ग्रामीण को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया. वन विभाग की टीम ने देर रात 9 बजे के करीब तेंदुए को ट्रेक्यूलाइज कर. उसे पिंजरे में रेंज कार्यालय बागेश्वर लाया गया.

जगदीश के हाथ व पैर में 80 टांके लगे है. प्रभागीय वनाधिकारी आरके सिंह ने बताया कि शिकार को लेकर किसी दूसरे तेंदुए से संघर्ष में यह तेंदुआ घायल हुआ होगा. तेंदुए की कमर तथा पिछले पैर में जख्म है.